ताज़ा ख़बर

PNEWS LIVE TV

बिहार में नितीश कुमार के कार्य से आप

Advertising Panel

Advertising Panel
PNews.co.in
सिंघिया प्रखण्ड में पंचायत समिति की बैठक हो हंगामे की भेंट चढ़ी/समाचार प्रकासन  करने  पर मिल रहा धमकी 

चीफ एडिटर कृष्ण कुमार संजय :




समस्तीपुर जिले के सिंघिया प्रखण्ड स्थित किसान भवन में बुधवार के दिन  पंचायत समिति सदस्य की बैठक काफी हो हंगामा के बीच सम्पन हुई जिसमें कई मुखिया एवम पंचायत समिति के सदस्य मनरेगा योजना में अपनी अपनी  हिसा लेने तथा योजना की अनियमितता को दबाने के लिये आमने सामने होकर हो हंगामा कर एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप थोप रहा था। बैठक में  कुछ पंचायत समिति सदस्यों ने पूर्ण रुपेंन पी न्यूज़  के खबर प्रकाशन पर दुःख व्यक्त किया था ,चुकी प्रखंड के बिस्नुपुर डीहा पंचायत के सोनसा ग्राम  में मंनरेगा योजना में पंचायत समिति एवं पंचायत सेवक के द्वारा सडक निर्माण में जेसीबी तथा ट्रेक्टर से काम किये जाने की खबर प्रकाशन किया था जिसपर जिलाधिकारी चंद्रशेखर प्रसाद सिंह ने मामले को गंभीरता से लेते हुए अनुमंडल पदाधिकारी रोसरा के अमन कुमार सुमन और उप विकास आयुक्त समस्तीपुर के वरुण मिश्रा को जांच करने का निर्देश दिए ,जिसपर जांचोपरांत अनिमित्तता पाए जाने पर  काम करने तथा भुगतान पर रोक लगा दिया गया था ,वही लिल्हौल पंचायत के मुरदौली में भी मुखिया द्वारा मजदुर के बदले ट्रेक्टर से काम किये जाने तथा प्राकलन के विरुद्ध काम करने की खबर पर जांच की गयी थी | बैठक में बीडीओ    मनोरमा  कुमारी,जीपीएस पवन सिंह,बीईओ डॉ बैजू झा,मुखिया चंद्र मनी सिंह,पीओ भूषण मिश्रा,सीडीपीओ बिमला देवी,निरंजन सिंह,राजेश कुमार रौशन,देव नारायण मुखिया ,रेखा देवी बीआरपी लाल बाबु दास ,चंदा देवी  ,ललित किशोर भारती समेत कई लोग मौजूद थे।दुसरी तरफ पी न्यूज़ के चीफ एडिटर कृष्ण कुमार संजय ने सिंघिया प्रखंड में चल रहे अनियमितता व्  सरकारी राशी का दुरूपयोग करने की खबर प्रकाशन करने पर कुछ सफ़ेद पोशो द्वारा समाचार नही प्रकाशन करने तथा धमकाने की शिकायत मुख्यमंत्री बिहार, डीजीपी  ,प्रधानमंत्री , जिलाधिकारी  मुख्यसचिव बिहार सरकार तथा अनुचुचित जाति जन जाति  आयोग , मानवाधिकार आयोग से करते हुए  अपनी जान माल की शुरक्षा करने की गुहार लगाया है |
PNews.co.in
पी न्यूज़ मोतिहारी घोड़ासहन कुमार गौरव

सुरक्षा की दृष्टि से सिकरहना  डीएसपी आलोक कुमार सिंह के नेतृत्व में मंगलवार को ढाका प्रखंड कार्यालय परिसर में पुलिस चेक जांच पोस्ट लगाया गया है। 

ज्ञात हो कि विगत सोमवार को दिन-दहाड़े मोटरसाइकिल सवार बेखौफ अपराधियों ने व्यवहार न्यायालय परिसर में उपस्थित कैदी अभिषेक झा को गोली मार कर हत्या दी थी।
 वहीं दूसरी ओर सुरक्षा को लेकर प्रखंड कार्यालय,अंचल कार्यालय सिकरहना पुलिस कार्यालय,व व्यवहार न्यायालय के काम से आए वाहन सवार सभी व्यक्तियों की गहन तलाशी की जा रही है। 

ढाका न्यायालय में उपस्थित होने के लिए मोतिहारी जेल से आए कैदियों को कैदी वाहन में कई घंटे रहना पड़ता है। कैदियों के विश्राम के लिए भवन तथा शौच जाने के लिए शौचालय की समस्याओं को लेकर मंगलवार को मोतिहारी पुलिस कप्तान उपेंद्र शर्मा,सिकरहना डीएसपी आलोक कुमार सिंह, ढाका थाना अध्यक्ष अर्जुन कुमार व अन्य पदाधिकारियों के साथ भवन का निरीक्षण किया गया।भवन और शौचालय निर्माण सहित अन्य समस्याओं पर भी विचार विमर्श किया गया।
वही पूर्व की घटनाओ को लेकर पूछे जाने पर पुलिस कप्तान श्री शर्मा ने बताया कि पुलिस आगे की कार्रवाही शुरू कर दी है। अपराधीयो की पहचान कर तुरंत गिरफ्तारी की जाएगी।
PNews.co.in
दवा कंपनियों पर सरकार कसेगी शिकंजा /नीति आयोग ने बनाई रणनीति

अब सभी दवाओं की कीमत सरकार तय करेगी। अभी सिर्फ जीवन रक्षक दवाओं की कीमत सरकार तय करती है। नीति आयोग ने इस बारे में एक प्रस्ताव तैयार किया है।  जल्द ही इस प्रस्ताव को सरकार के पास भेजा जायेगा।   
सरकार की मंशा लोगों को उचित मूल्य पर दवा उपलब्ध कराना है। सरकार चाहती है कि ट्रेड मार्जिन के आधार पर दवाओं के दाम कंट्रोल किए जायें। बाजार में कई ऐसी दवाएं हैं, जिनकी कीमत लागत मूल्य के कई गुना ज्यादा है। मनमाने दाम पर बेच कर कंपनियां बहुत ज्यादा मुनाफा कमा रही हैं। दवा कंपनियों की इस मनमानी को समाप्त करने के लिए नीति आयोग और स्वास्थ्य मंत्रालय ने मिल जुलकर फार्मूला तैयार किया है।  अगर कैबिनेट इसे मंजूर कर देती है, तो फिर पूरे देश में इसे लागू कर दिया जाएगा। 
नीति आयोग दवाओं की कीमत को बिक्री की पहली जगह पर ही ट्रेड मार्जिन तय करना चाहती है। सरकार को लगता है कि ऐसा करने से दवा बनाने वाली कंपनियों और अस्पतालों की मुनाफाखोरी पर लगाम लगेगी और मरीजों को मुफीद दर पर दवाएं मुहैया की जा सकेगी। 
दवाओं की कीमत निर्धारित करने वाली संस्था एनपीपीए सिर्फ जीवनरक्षक दवाओं की कीमत निर्धारित करती है। देश में दवाओं का घरेलू उद्योग करीब 1 लाख करोड़ का है जिसका सिर्फ 17 फीसदी ही कीमत नियंत्रण के दायरे में है।
PNews.co.in
पहली बार नक्सली की संपत्ति ED ने की जप्त  /संदीप यादव बना पहला शिकार

नक्सलवाद के समूल नाश के लिए जांच एजेंसियों ने कमर कस ली है। केंद्र सरकार ने इसके लिए उन्हें खुली छूट दे दी है। इसका असर भी दिखने लगा है। इस अभियान की प्रयोग भूमि बिहार बना है। देश में पहली बार किसी नक्सली की संपत्ति को स्थायी रूप से जप्त किया गया है। उसका नाम संदीप यादव है। औरंगाबाद निवासी संदीप सीपीआई (माओवादी) बिहार -झारखंड स्पेशल एरिया कमिटी का ऑपरेशन प्रभारी है। झारखंड सरकार ने उसे जिन्दा या मुर्दा पकड़ने के लिए  25 लाख का और बिहार सरकार ने 5 लाख का इनाम घोषित कर रखा है।    
ED ने नक्सली संदीप यादव की 86 लाख की चल -अचल संपत्ति  स्थायी तौर पर जप्त कर ली है। जप्त की गई संपत्ति औरंगाबाद,गया और दिल्ली में है। देश में पहली बार किसी नक्सली की संपत्ति स्थायी रूप से ED द्वारा जप्त की गई है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक अन्य नक्सलियों की तरह ही संदीप का मुख्य कार्य आतंक कायम कर रंगदारी वसूलना है। वसूला गया पैसा वे अपने परिवार की सुख -सुविधा पर खर्च करते हैं। सूत्रों के मुताबिक संदीप का बड़ा बेटा पटना के नामी निजी कालेज में पढता है ,जबकि दूसरा बेटा रांची के एक मशहूर कान्वेंट में पढ़ रहा है। 
पुलिस सूत्रों के मुताबिक जप्त सम्पत्तियों में एक 1.4 लाख का और एक 96 हज़ार  का स्पोर्ट्स बाइक, 10 . 69 लाख का SUV , 6 . 33 लाख का ट्रैक्टर शामिल है। इसके अलावा दिल्ली के द्वारिका में एक फ्लैट भी है ,जिसकी बुकिंग संदीप के दामाद गजेंद्र द्वारा 10 . 68 देकर की गई है। 
उम्मीद की जा रही है कि संपत्ति जप्ती की इस कार्रवाई से नक्सलियों द्वारा बनाया जा रहा आर्थिक साम्राज्य ध्वस्त होगा।
PNews.co.in
बोल्‍डनेस की सारी हदें पार की बॉलीवुड अभिनेत्री मीनाक्षी कलिता ने 
अक्षय कुमार – तृष्‍णा कृष्‍णन स्‍टारर फिल्‍म ‘खट्टा मीठा’ से अपनी करियर की शुरूआत करने वाली बॉलीवुड अदाकार मीनाक्षी कलिता जल्‍द ही अपनी बॉलीवुड फिल्‍म ‘कैक्‍टस’ में बोल्‍डनेस की सारी हदें तोड़ती नजर आयेंगी। इस फिल्‍म में मुख्य भूमिका में नजर आएगी और फिल्‍म की जारी पोस्‍टर में वे बिकनी अवतार में नजर आ रही हैं। फिल्‍म को सचिन सलूजा ने निर्देशइक्क किया है ! इस फिल्‍म के पोस्‍टर में मीनाक्षी ने बोल्‍डनेस की सारी हदें पार कर दी हैं, जो सिने स्‍क्रीन पर तहलका मचाने वाली है। इसके अलावा वे निर्माता – निर्देशक नरेंद्र कुमार शर्मा की फिल्‍म ‘कमीने आशिक’ भी कर रही हैं, जिसके पोस्‍टर में वे दो हीरो के बीच फंसी नजर आ रही है। फिलहाल इस फिल्‍म की भी शूटिंग जोरो से चल रही है इंडिया में और उम्‍मीद की जा रही है कि यह इसी साल रिलीज होगी। मीनाक्षी कहती है की अगर कहानी का डिमांड हो तो मै कुछ भी करने को तैयार हु बशर्ते फिल्म में उस सीन का डिमांड होना चाहिए ! 
मीनाक्षी कलिता इससे पहले बॉलीवुड अभिनेत्री देसी गर्ल प्रियंका चोपड़ा के साथ उनकी अवार्ड विनिंग फिल्‍म ‘मैरी कॉम’ में भी नजर आ चुकी हैं, जिसमें उनकी भूमिका को खूब सराहा गया था। मीनाक्षी असम (भारत ) से आती हैं और उनके पिता आरबीआई बैंक में मैनेजर हैं और उन का परिवार हमेशा उन के साथ होता है । मीनाक्षी का सपना बचपन से ही बॉलीवुड था, जहां वे अपनी टाइलेंट से दुनिया को प्रभावित कर रही हैं। यही वजह है कि उन्‍हें बॉलीवुड में एज ए लीड रोल भी मिलने लगा है। हालांकि इससे पहले उन्‍होंने टी वी. चैनल वी. के लिए एक टीवी शो ‘किडनैप’ भी कर चुकी हैं, मगर उनकी उड़ान बॉलीवुड के आसमान को छूने के लिए है। यही वजह है कि इन दिनों वे दो बेहद महत्‍वपूर्ण फिल्‍मों में लीड रोल नजर आने वाली हैं, जिसको लेकर बॉलीवुड इंडस्‍ट्री में चर्चा जोरों पर है। खासकर उनके बोल्‍ड अंदाज को लोगों को खूब प्रभावित किया है। अब देखना होगा कि मीनाक्षी अपने इस वाहवाही को बॉक्स ऑफिस पर कितना हिट हो पाती हैं। 
PNews.co.in
हारमोनी एक्स एल लेजर मशीन से पाएं सौंदर्य समस्याओं से छूटकारा 
पटना । चेहरे की सभी सौंदर्य समस्याओं का एक साथ निदान अब लेजर मशीन के द्वारा संभव है । विश्व की सुप्रसिद्ध इजराइल की अल्मा कंपनी की अत्यंत लोकप्रिय लेजर मशीन अब पटना में उपलब्ध हो गयी है । उक्त बात की जानकारी बिहार के प्रसिद्ध त्वचा रोग विशेसज्ञ डॉ. पंकज तिवारी ने दी । उन्होंने बताया कि इस लेजर मशीन में तीन अलग तरह के प्लेटफार्म हैं जिन्हें आई - पिक्सेल, क्लियर लिफ्ट तथा एस .एच. आर कहा जाता है । आई - पिक्सेल से चेहरे के त्वचा के गढ्ढों को रिसरफेशन करके भरा जा सकता है , इससे चेहरे की महीन झुर्रियों तथा गर्भावस्था के बाद पेट पर बने निशानों को भी ठीक किया जा सकता है । एस. एच. आर चेहरे एवम बदन के अनचाहे बालों को हटाने की अत्यंत प्रभावी विधि है । वहीं पटना स्किन क्लीनिक की सौंदर्य विशेशज्ञ डॉ. तृप्ति पाठक ने बताया कि क्लियर लिफ्ट लेजर से चेहरे की छाईंयों, तिलों और अन्य दागों को ठीक किया जाता है । उन्होंने बताया कि आज की भागदौड़ वाली जीवनशैली तथा वातावरण के प्रदूषण के कारण हमारी त्वचा रूखी एवम बेजान होती जा रही है । इस मशीन से हमारी त्वचा को कुछ ही घंटों में चमक प्रदान की जा सकती है । यह मशीन सभी वयस्कों एवम प्रौढ़ों में असरदार है । 
डॉ. पंकज ने कहा कि यह मशीन इजराइल से भारत मंगाई जाती है तथा इसके एक्सपर्टों द्वारा इसकी गुणवत्ता की समय - समय पर जांच की जाती है । पटना स्किन क्लीनिक प्रदेश के त्वचा रोगियों को उचित , गुणवत्तापूर्ण एवम सफल इलाज करने के लिए प्रतिबद्ध है ।
PNews.co.in
20 जुलाई से घूंघट में घोटाला’ करेंगे प्रवेश लाल यादव
सुपर हिट भोजपुरी फिल्‍म बॉर्डर’ के बाद अब निरहुआ एंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड एक बार फिर से बॉक्‍स ऑफिस पर धमाल मचाने को तैयार है। 20 जुलाई को इस बैनर की फिल्‍म घूंघट में घोटाला’ रिलीज हो रही हैजिसे मंजूल ठाकुर ने निर्देशित किया है। फ़िल्म के निर्माता जुबली स्टार दिनेश लाल यादव निरहुआ ने नेपाल में चल रही अपनी अगली फिल्म की शूटिंग के सेट से सोशल मीडिया में एक वीडियो जारी कर इसकी घोषणा की। उन्‍होंने कहा कि घूंघट में घोटाला’ एक हास्य हॉरर  थ्रिलर फिल्म है । फ़िल्म के ट्रेलर को देखकर फ़िल्म का अंदाज सहज ही लगाया जा सकता है । घूंघट में घोटाला’ गांव के एक ऐसे युवक की कहानी हैजो रोमांस के ख्वाब में डूबा रहता है। उन्हें प्रेमिका मिलती भी है पर शादी कही और कर लेता है । फिर शुरू होती है जद्दोजहद।

हालांकि इस फिल्‍म खुद दिनेशलाल यादव नजर नहीं आ रहे हैंमगर उनको फिल्‍म से काफी उम्‍मीदें हैं। फिल्‍म के लीड में प्रवेश लाल यादवमणि भट्टाचार्यऋचा दीक्षित नजर आ रही हैं। फिल्‍म का ट्रेलर भी रिलीज हो चुकी हैजिसे देखने के बाद कहा जा सकता है कि फिल्‍म कॉमेडी बेस्‍ड है। इसमें आत्‍मा की भी कलाबाजी देखने को मिलेगी। यह फिल्‍म बॉर्डर’ से बिलकुल अलग और इंटरटेनिंग जोनर की है।  

बता दें कि फिल्‍म घूंघट में घोटाला’ की कहानी खुद निर्देशक मंजूल ठाकुर ने ही लिखी है। संगीतकार हैं मधुकर आनंद और रजनीश मिश्राजबकि गीतकार हैं प्यारे लाल यादव,आजाद सिंहश्याम देहाती और ओम अलबेला। फ़िल्म की पटकथा मंजुल ठाकुर और अरविंद तिवारी ने जबकि संवाद अरविंद तिवारी ने लिखा है । फ़िल्म के कार्यकारी निर्माता है हरिकेश यादव व प्रोडक्शन कंट्रोलर हैं राजेश भगत। प्रचारक रंजन सिन्‍हा और उदय भगत हैं।  घूंघट में घोटाला में प्रवेश लाल यादवमणि भट्टाचार्यऋचा दीक्षित के अलावा किरण यादवसंजय पांडेसमर्थ चतुर्वेदीसंतोष श्रीवास्तवसंतोष पहलवानविवेक केसरीतेज बहादुर यादवआशीष सेन्द्रेहेम लाल कौशलरीमा सिंह आदि मुख्य भूमिका में हैं ।