ताज़ा ख़बर

PNEWS LIVE TV

Advertising Panel

Advertising Panel
PNews.co.in
प्रेस स्थायी समिति की बैठक सम्पन्न
सुलतानपुर 
 प्रभारी जिलाधिकारी  राधेश्याम की अध्यक्षता में जिला प्रशासन तथा पत्रकारों के सम्बन्धों को और अधिक सौहार्दपूर्ण बनाने के उद्देश्य से गठित जिला स्तरीय प्रेस स्थायी समिति की बैठक आज विकास भवन में सम्पन्न हुई। बैठक में अपर पुलिस अधीक्षक, सूर्यकांत त्रिपाठी, जिला स्तरीय स्थायी समिति के सदस्य /पत्रकार दर्शन साहू, सत्यप्रकाश गुप्ता, अतुल तिवारी, राज किशोर सिंह तथा ग्रामीण पत्रकार एसोशिएशन के अध्यक्ष आर.ए कोविद उपस्थित थे। बैठक का संचालन जिला सूचना अधिकारी आर.बी.सिंह ने किया। 
बैठक में सोशल मीडिया पर कतिपय ग्रुपों पर प्रसारित समाचारों के बारे में विचार -विमर्श किया गया एवं आवश्यक  पत्रकार सदस्यों द्वारा आवश्यक सुझाव दिए गए। बैठक में पत्रकार सत्य प्रकाश गुप्ता के प्रकरण पर प्रभारी जिलाधिकारी ने अधिशाषी अभियन्ता विद्युत से वार्ता की , जिसके निस्तारण का आश्वासन दिया गया। इसी प्रकार आरए कोविद के प्रति विगत दिनों कूरेभार पुलिस द्वारा दुर्रव्यवहार किये जाने के प्रकरण को संज्ञान लेते हुए पुलिस अधीक्षक से कार्यवाही की अपेक्षा की गयी। बैठक में विगत दिवस पत्रकार सतीश मिश्रा के प्रकरण पर भी विचार विमर्श किया गया। 
बैठक की अध्यक्षता कर रहे प्रभारी जिलाधिकारी ने कहा कि पत्रकार उत्पीड़न को संज्ञान में लेते हुए प्रभावी कार्यवाही की जायेगी। 
PNews.co.in
आई आँधी  के कारण इतनी तबाही हुई कि ग्राम पंचायत पटाउहाँ ,तहसील चुरहट
       सिटी रिपोर्टर  पंकज तिवारी

आई आँधी  के कारण इतनी तबाही हुई कि ग्राम पंचायत पटाउहाँ ,तहसील चुरहट ,जिला सीधी के निवासी कौशल प्रसाद तिवारी के घर मे आम का पेड़ ही गिर पड़ा ,जिसके कारण भारी क्षति हुई,और मवेशियों को भी क्षति पहुंची है,

घर की पूरी लकड़ी और खपड़ा पूरी तरह से नष्ट ही गया और पूरी दीवार क्षतिग्रस्त हो गई है।  
                       
PNews.co.in
आय से अधिक संपत्ति के मामले में  एटा में  सपा के पूर्व विधायक रामेश्वर सिंह यादव और उनके छोटे भाई पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेन्द्र सिंह यादव फंस गये 


रिपोर्ट-अंशुल शाक्य,एटा


आय से अधिक संपत्ति के मामले में  एटा में  सपा के पूर्व विधायक रामेश्वर सिंह यादव और उनके छोटे भाई पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेन्द्र सिंह यादव फंस गये है। आय से अधिक संपत्ति के मामले और सरकारी जमीनों पर किये गये कब्जे को लेकर शासन के आदेश पर जिलाधिकारी अमित किशोर के निर्देश पर शहर कोतवाली और मलावन थाना में उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गयी है। आय से अधिक संपत्ति और सरकारी जमीनों पर कब्जे की जांच एसआईटी करेगी। पूर्व सपा विधायक सदर आशीष यादव ने सपा के पूर्व विधायक रामेश्वर सिंह यादव व पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष जुगेन्द्र सिंह यादव के आय से अधिक संपत्ति और सरकारी जमीनों पर अवैध कब्जे किए जाने की शिकायत शासन से की थी जिसके बाद मंडलायुक्त अलीगढ़ ने टास्क फोर्स से जांच कराई थी जिसकी रिपोर्ट नवंबर 2017 में सौंप दी गयी थी जिसमें सपा नेताओं पर आय से अधिक संपत्ति और सरकारी जमीनों पर कब्जे के आरोप को सही पाया। पूरे मामले पर रिपोर्ट का संज्ञान लेने के बाद प्रदेश के गृह विभाग ने एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिये जिसके बाद जिलाधिकारी अमित किशोर के आदेश के बाद शहर कोतवाली और मलावन थाने में सपा नेताओं के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया।
  बाईट-  आशीष यादव,( पूर्व सपा विधायक एवं शिकायतकर्ता)
"ये शिकायत मान्यनीय मुख्यमंत्री जी को की गई थी..आय से अधिक संपत्ति के बारे में..जो इन्होंने हलफनामा चुनाव में दाखिल किया था ...जो हमारे यहां कानों है कि मियां बीबी पर कृषि और गैर कृषि भूमि 62 बीघा राह सकती है..इसमें दोनो भाइयों के नाम किसी के पास 274 बीघा है किसी के नाम 296 बीघा है।उसको आधार बनाते हुए शिकायत की गई थी। "


बाईट-  जुगेन्द्र सिंह यादव,  (पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष )
"देखिए मामला राजनैतिक है।और सारा का सारा जो भी आरोप है और जो एफआईआर है वो बिल्कुल निराधार और झूठ है।  "

बाईट-  ओम प्रकाश सिंह, ( ए एस पी (क्राईम))
" इस संबंध में थाना कोतवाली नगर और थाना मलावन पर धारा 447 आईपीसी ,सरकारी संपत्ति नुकसान अधिनियम और भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत इन दोनों पर मुक़द्दामा पंजीकृत किया गया है।विवेचना कर के आवश्यक कार्यवाही की जाएगी। "
PNews.co.in
सिंघीया बीडीओ जय किसन का विदाई समारोह का आयोजन शिक्षक संघ एवम जीपीएस के द्वारा की गई


चीफ एडिटर ,कृष्ण कुमार संजय :



समस्तीपुर जिले के सिंघीया प्रखण्ड के निवर्तमान प्रखण्ड विकास पदाधिकारी जय किसन को सोमवार को देर रात्रि में नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ एवम जीपीएस के द्वारा बिदाई समारोह का आयोजन किया गया तथा पाग और चादर देकर सम्मानित किया वही नय बीडीओ मनोरमा देवी को भी हररलोल्लास के साथ स्वागत किया।समारोह की अध्यक्षता शिक्षक संघ के नेता राजेश कुमार राजू किये।वही निवर्तमान प्रखण्ड विकाश पदाधिकारी के द्वारा 4वर्षों में की गई कार्यो पर स्थानीय लोगों ने सराहते हुए ,स्थानांतरण पर गहरी दुख व्यक्त किया।प्रखण्ड विकास पदाधिकारी जय किसन ने भी अपनी संबोधन भाषण में कहे कि सिंघीया के लोगों जनप्रतिनिधि सरकारी कर्मी एवम मीडिया के लोगों के द्वारा सहयोग किये जाने के पश्चात ही मैंने कंधे से कंधे मिलाकर विकास कार्य किया। विकास कार्य मे सहयोग करने में  उपस्थित सभी लोगो का आभार व्यक्त किया।बीडीओ को सम्मानित करने वाले लोगों में शिक्षक नेता राजेश कुमार राजू,मनोज साफी, कृष्ण कुमार सिंह,सौरभ सिंह,पूर्व मुखिया निरंजन सिंह ,जीपीएस पवन सिंह समेत कई लोग शामिल थे ।वही समारोह में उपस्थित लोगों में  दिलीप सिंह, इनरदेव गिरी शशिभूषण सिंह,बबलू पासवान,राकेश सिंह,अरुण शेखर कुंवर,उप प्रमुख रौशन सिंह,अनिल बैठा,रामरतन यादव,छेदी पासवान,जितेंद्र ठाकुर, पूर्व मुखिया वृजेन्द्र सिंह मुरारी समेत प्रखण्ड के सभी कर्मचारीगण उपस्थित थे।मौके पर नए प्रखण्ड विकास पदाधिकारी मनोरमा देवी ने अपनी पदभार ग्रहण की और बोली कि सरकार के विकास कार्य को  आम जनताओं तक पहुंचाना मेरी प्रथम प्राथमिकता होगी।
PNews.co.in


कॅामेडियन कपिल शर्मा के बाद एक और सेलीब्रिटी के आपा खोने की खबर मिली है... कपिल ने जहां पत्रकार विकी लालवानी के साथ गाली-गलौच की थी, वहीं इस बार भोजपुरी फिल्मों के स्वघोषित सुपर स्टार दिनेशलाल यादव 'निरहुआ' ने पत्रकार शशिकांत सिंह को न सिर्फ गालियां दी हैं, अपितु मुंबई पहुंचते ही उन्हें टुकड़ा-टुकड़ा काटने और घर में घुस कर जान से मारने की धमकी दी है !

आपको बता दें कि शशिकांत सिंह एक जुझारू पत्रकार तो हैं ही, 'चैंबर आफ फिल्म जर्नलिस्ट' (सीएफजे) के सदस्य होने के अलावा सोशल मीडिया में भी काफी सक्रिय हैं। इस नाते निरहुआ की हालिया प्रदर्शित फिल्म 'बॅार्डर' के बारे में जब प्रचारित किया जा रहा था कि इस फिल्म ने सलमान खान की फिल्म 'रेस-3' को पछाड़ दिया है, तब शशिकांत सिंह ने पत्रकारिता धर्म का पालन करते हुए फेसबुक के अपने पेज पर 'बॅार्डर' का पूरा आंकड़ा प्रस्तुत कर दिया।

बस, इसी सच से खिसियाये निरहुआ ने शशिकांत सिंह को फोन करके जमकर गालियां दी हैं, साथ ही मुंबई आकर उनका टुकड़ा-टुकड़ा करने और घर में घुस कर जान से मारने की धमकी भी दी है ! हालांकि शशिकांत सिंह ने इस दौरान निरहुआ को समझाने की बहुत कोशिश की कि आप अपना पक्ष रखिए, मैं उसे भी सार्वजनिक कर दूंगा। लेकिन निरहुआ ने तो मानो तय कर लिया था कि वह उनकी एक नहीं सुनेंगे ! यही नहीं, शशिकांत सिंह ने निरहुआ को बातचीत की शुरुआत में ही आगाह कर दिया था कि मोबाइल में रिकॅार्डिंग हो रही है, मगर इसी बात को जब उन्होंने दोहराने का प्रयास किया तो निरहुआ ने बद्तमीजी करने की सारी हदें पार कर दीं (निरहुआ और शशिकांत सिंह के बीच हुई बातचीत का आडियो आप भी सुन सकते हैं) !

इस घटना से आहत शशिकांत सिंह से संपर्क करने पर पता चला कि वह निरहुआ के खिलाफ उन्होंने तुलिंज पुलिस स्टेशन में आज शिलायत की है। 'सीएफजे' के सचिव धर्मेन्द्र प्रताप सिंह ने निरहुआ के व्यवहार के लिए उनकी घोर निंदा की है- 'महाराष्ट्र पुलिस से मांग करता हूं कि निरहुआ के विरुद्ध सख्त से सख्त कार्यवाही की जाय, ताकि फिल्म पत्रकारों को निशाना बना रही तमाम सेलीब्रिटीज को सबक मिल सके !'
PNews.co.in
अन्र्तराष्ट्रीय योग दिवस को सफल बनाने हेतु सभी तैयारियां समय से पूर्ण की जाय -डीएम। 
19 व 20 जून को प्रातः 06.00 बजे पूर्वाभ्यास होगा। 
जागरूकता रैली 19 जून को सायं 05.00 बजे स्थानीय पंत स्टेडियम से । 
योग कार्यक्रम में पांच हजार लोग प्रतिभाग करेंगे। 
सुलतानपुर
, जिलाधिकारी विवेक ने बताया कि आगामी 21 जून को स्थानीय पंत स्टेडियम में चतुर्थ अन्र्तराष्ट्रीय योग दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने सभी सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि विगत वर्ष की भांति इस वर्ष भी उन्हें वही दायित्व सौंपे गए हैं। सभी अधिकारी दिए गए दायित्वों का समय से अनुपालन सुनिश्चित कराते हुए अन्र्तराष्ट्रीय योग दिवस को सफल बनायंे। जिलाधिकारी आज कलेक्ट्रेट में अन्र्तराष्ट्रीय योग दिवस के सम्बन्ध में एक बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। 
जिलाधिकारी ने अन्र्तराष्ट्रीय योग दिवस के आयोजन के सम्बन्ध में अधिकारियों को कार्यों का आवंटन करते हुए 20 जून की सायं तक सभी तैयारियां पूर्ण करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने स्थानीय पंत स्टेडियम में आयोजित होने वाले योग दिवस कार्यक्रम हेतु मंच , साउन्ड सिस्टम तथा प्रचार प्रसार हेतु नगर में होर्डिंग व बैनर लगाने की जिम्मेदारी लीड बैंक अधिकारी को सौपी है। इसी प्रकार पंत स्टेडियम में योग करने वाले पांच हजार व्यक्तियों के बैठने हेतु मैटिंग तथा सफेद चादर एवं रंगोली की जिम्मेदारी जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी , जिला विद्यालय निरीक्षक, उपजिलाधिकारी सदर को सौंपी है। इसी प्रकार योग कार्यक्रम में भाग लेने वाले लोगों के लिए शुद्ध पेयजल एवं आवश्यक चिकित्सा सुविधा की व्यवस्था के लिए मुख्य चिकित्साधिकारी को जिम्मेदार बनाया गया है। पंत स्टेडियम के अन्दर परिसर तथा परिसर के बाहर की सफाई की जिम्मेदारी ईओ नगर पालिका तथा डीपीआरओ को दी गयी है। जिलाधिकारी ने बताया कि नगर में टैªफिक व्यवस्था हेतु पुलिस विभाग तथा एआरटीओ को जिम्मेदारी दी गयी है। जिलाधिकारी ने बेसिक शिक्षा अधिकारी तथा जिला विद्यालय निरीक्षक को शिक्षक/शिक्षिकाओं तथा कक्षा 08 से ऊपर के बच्चों की उपस्थिति सफेद डेªस में कराने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने सभी जिला स्तरीय अधिकारियों  को निर्देशित किया है कि वे स्वयं तथा अपने स्टाफ की उपस्थिति 21 जून को प्रातः 06.00 बजे स्टेडियम में उपस्थिति सुनिश्चत करें तथा योग कार्यक्रम में भाग लें। 
जिलाधिकारी ने प्रिन्ट तथा इलेक्ट्रानिक मीडिया बन्धुओं का आवाहन् किया है कि वे अन्र्तराष्ट्रीय योग दिवस कार्यक्रम का अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार कराने में अपना सहयोग दें तथा योग कार्यक्रम में उपस्थित रहकर आयोजन को सफल बनायें। जिलाधिकारी ने बार एसोसिएशन , व्यापार मण्डल तथा रोटरी क्लब आदि स्वयंसेवी संगठनों से योग कार्यक्रम में भाग लेने की अपेक्षा की है। जिलाधिकारी ने सम्पूर्ण व्यवस्था हेतु अपर जिलाधिकारी प्रशासन बीडी सिंह को अन्र्तराष्ट्रीय योग दिवस का प्रभारी नामित किया है। 
बैठक में सीडीओ राधेश्याम, अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) बीडी सिंह, संयुक्त मजिस्ट्रेट प्रणय सिंह, सीएमएस बीबी सिंह, जिला सूचना अधिकारी आरबी सिंह, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी केके सिंह व सम्बन्धित उपस्थित थे। बैठक का संचालन जिला आयुर्वेदिक एवं यूनानी अधिकारी /नोडल अधिकारी डाॅ ओपी सिंह ने किया। 
PNews.co.in
सुलतानपुर 
, भ्रष्टचार तथा कुप्रशासन पर अंकुल लगाने हेतु लोक आयुक्त प्रशासन कटिबद्ध है। लोक आयुक्त प्रशासन, उ.प्र. का गठन भ्रष्टाचार /पद का दुरूपयोग /कुप्रशासन को दूर करने हेतु किया गया है। लोक आयुक्त प्रशासन के द्वारा लोक सेवकों के भ्रष्टाचार एवं कुप्रशासन के सम्बन्ध में प्राप्त होने वाली शिकायतों पर प्रभावी कार्यवाही किये जाने के कारण जनता में लोक आयुक्त प्रशासन का विश्वास निरन्तर बढ़ रहा है। लोक आयुक्त प्रशासन के अन्वेषण अधिकारी राजाराम यादव ने आज यहां किसान सहकारी चीनी मिल में आयोजित एक गोष्ठी में यह जानकारी दी। 
अन्वेषण अधिकारी ने बताया कि वर्तमान में मा. लोक आयुक्त उ.प्र. न्यायमूर्ति संजय मिश्रा भ्रष्टाचार एवं कुप्रशासन के प्रकरणों में जीरो टालरेन्स के सिद्धांत पर कार्य कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि वर्ष 2017 में कुल 3137 परिवाद प्राप्त हुए तथा इससे पूर्व 615 परिवाद लम्बित थे। इस प्रकार कुल 3752 परिवाद में से अब तक 2870 परिवादों का निस्तारण किया गया। उन्होंने बताया कि लोक आयुक्त संगठन द्वारा वर्ष 2017 में सेवानिवृत्त कार्मिकों को उनके सेवा निवृत्त सम्बन्धी मामलों में राहत पहुंचाते हुए कुल 462.52 लाख का भुगतान कराया गया। उन्होंने बताया कि वर्ष 2017 में विभिन्न विश्वविद्यालयों में अध्ययनरत 178 छात्र/छात्राओं को ग्रीष्मकालीन /शीतकालीन अवकाशों में व्यवहारिक प्रशिक्षण /अध्ययन कराया गया। उन्होंने लोक आयुक्त प्रशासन उ.प्र. का व्यापक प्रचार प्रसार पर बल देते हुए कहा कि जनता को लोक आयुक्त प्रशासन के बारे में जानकारी दी जानी चाहिए, जिससे वे शिकायतों का निस्तारण करा सकें। 
इस अवसर पर जनसम्पर्क अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि लोक आयुक्त तथा उपलोक आयुक्त को अभिकथन तथा शिकायत सम्बन्धी परिवाद निर्धारित प्रारूप पर तीन प्रतियों में टंकित कराकर धारा- 9 (2) के अनुसार नोटरी शपथ पत्र एवं धारा -9 (3) के अनुसार परिवाद प्रस्तुत किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि संलग्नक का सत्यापन परिवादी स्वयं के द्वारा निर्धारित प्रक्रिया के अनुसार करके एवं अभिकथन रूपी परिवादों में 02 हजार रूपये प्रतिभूति निर्धारित लेखा शीर्षक में चालान के माध्यम से जमा करना होगा। उन्होंने बताया कि परिवाद मिथ्या या फर्जी पाया जाता है तो ऐसे परिवादियों पर मा. लोक आयुक्त द्वारा पचास हजार रूपये तक की धनराशि का हर्जाना भी लगाया जा सकता है एवं प्रतिभूति की धनराशि भी जब्त की सकती है। उन्होंने बताया कि मंत्रियों, विधायकों व अन्य लोक सेवकों के विरूद्ध भ्रष्टाचार , पद के दुरूपयोग व कुप्रशासन के सम्बन्ध में प्राप्त होने वाले परिवादों को ग्रहण करके लोक आयुक्त तथा उप लोक आयुक्त उ.प्र. के द्वारा उसका निराकरण कराते हुए उत्तरदायी मंत्रियों/विधायकों और लोक सेवकों के विरूद्ध कार्यवाही हेतु संस्तुतियां सक्षम प्राधिकारी (मुख्यमंत्री/मुख्य सचिव) को प्रेषित की जाती हैं और वार्षिक प्रतिवेदन महामहिम श्री राज्यपाल को प्रस्तुत किया जाता है। 
गोष्ठी में सहायक समीक्षा अधिकारी अंकित अग्रवाल ने जनसामान्य को शिकायत/अभिकथन के सम्बन्ध में निर्धारित प्रारूप के बारे  में जानकारी दी तथा उपस्थित जनसमुदाय को लोक आयुक्त प्रशासन के अधिकार पम्पलेट उपलब्ध कराया। इस अवसर पर जीएम चीनी मिल केपी शुक्ला, जिला सूचना अधिकारी आरबी सिंह, तहसीलदार सदर राजेश सिंह व सम्बन्धित उपस्थित थे।