पटना, सनाउल हक़ चंचल-

पटना। लालू प्रसाद यादव परिवार से जुड़े बेनामी संपत्ति का मामला दिनों-दिन तूल पकड़ता जा रहा है. खबर मिली है कि लालू की बड़ी बेटी व राज्यसभा सांसद मीसा भारती और उनके पति शैलेश कुमार को जांच एजेंसियां बड़ा झटका दे सकती हैं. सूत्रों के अनुसार, प्रवर्तन निदेशालय यानी इडी नयी दिल्ली के 26 पालम फाॅर्म हाउस जब्त कर सकता है.

इडी की ओर से यह कार्रवाई मनी लांड्रिग एक्ट के तहत की जायेगी. मीडिया में चल रही खबरों के मुताबिक प्रवर्तन निदेशालय ने यह स्पष्ट किया है कि विभाग मीसा भारती और उनके पति के जवाब से संतुष्ट नहीं है. सबसे पहले विभाग एक बार और दोनों से पूछताछ करेगा. विभाग के मुताबिक पालम फाॅर्म हाउस मीसा भारती और शैलेश कुमार की शैल कंपनियों के धन से खरीदा गया है.

जानकारी के मुताबिक मीसा भारती और शैलेश कुमार ने चार शैल कंपनियों के जरिए करोड़ों रुपये बनाये थे. उसी रकम का इस्तेमाल कर उन्होंने पालम फाॅर्म हाउस खरीदा. ईडी इससे पहले मीसा भारती और शैलेश से पूछताछ कर चुका है. इस मामले में पहले ही विभाग पूछताछ कर चुका है. साथ ही मीसा के सीए राजेश अग्रवाल के खिलाफ पिछले ही सप्ताह आरोप पत्र दायर किया जा चुका है. राजेश अग्रवाल इस वक्त तिहाड़ जेल में हैं. ईडी की इस कार्रवाई से विपक्ष को एक बड़ा मुद्दा मिल गया है. लालू परिवार की बेनामी संपत्ति को जब्त करने की चर्चा पहले से चल रही थी, इस बीच मीसा भारती के फाॅर्म हाउस के जब्त होने की बात कही जा रही है।

Post A Comment: