पानीपत के जेई शिखर सहगल ने कौन बनेगा करोड़पति में  जीते 6.40 लाख, एक करोड़ तक नहीं पहुंच पाया कोई 
कौन बनेगा करोड़पति-9 की हॉटसीट पर हरियाणा का जलवा, पलवल के वीरेश चौधरी ने सर्वाधिक 50 लाख जीते, हिसार की सरोज वर्मा 10 हजार ही ला पाईं 
बॉलीवुडमें धाक जमा रहे हरियाणवियों ने इस बार टीवी के सबसे बड़े नॉलेज शो 'कौन बनेगा करोड़पति-9' में भी जलवा दिखया। इस रिएलिटी शो को होस्ट करने वाले बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन के सामने प्रदेश के कंटेस्टेंट हॉट सीट पर शानदार प्रदर्शन कर रहे है । कई कठिन सवालों के जवाब देकर प्रतिभागियों ने 50 लाख रुपए तक की राशि अपने नाम की। भले ही कोई भी प्रतिभागी एक करोड़ की राशि जीत नहीं पाया है, लेकिन हॉट सीट पर पहुंचकर प्रदेश का नाम रोशन जरूर किया है। केबीसी में प्रदेश से सर्वाधिक 50 लाख रुपए जीतने वाले प्रतिभागी विरेश चौधरी रहे और सबसे कम 80 हजार हिसार की सरोज वर्मा ने जीते। वहीं, पीडब्ल्यूडी बीएंडआर विभाग में जूनियर इंजीनियर के पद पर कार्यरत पानीपत के शिखर सहगल केबीसी से 6.40 लाख रुपए लेकर लौटे। 12.50 लाख के सवाल पर जवाब का पता नहीं होने से उन्होंने खेल को बीच में ही छोड़ना उचित समझा। शिखर के पिता दिनेश सहगल पानीपत थर्मल पावर प्लांट में चीफ केमिस्ट हैं। उनकी माता आशु सहगल डीएवी स्कूल थर्मल में हिंदी टीचर हैं। शिखर ने बताया कि टीवी पर उन्हें केबीसी में पूछे गए सवालों के जवाब दिए। फिर उनके पास फोन आया कि उन्हें केबीसी के लिए चुना गया है। ऑडिशन के बाद आखिर उन्हें अमिताभ बच्चन के सामने हॉट सीट पर बैठने का मौका मिला। ​शिखर धवन 2014 से केबीसी में ट्राई कर रहे है और उन्हें अब 2017 में हॉट सीट पर बैठने  मिला इस ख़ुशी को वह शब्दों में बयां नहीं कर पाए। शिखर सहगल केबीसी में जीती गई धनराशि से अपने परिवार के साथ वर्ल्ड टूर पर जाना चाहते है। केबीसी एक ज्ञान का खेल है सभी को तैयारी कर के जाना चाहिए। हरियाणा के कई प्रतिभागिया का केबीसी में भाग लेने पर उन्होंने कहा कि भाजपा की खटटर सरकार विकास के अनेक कार्य करवा रही है और जहा हरियाणा का नाम खेलो में विख्यात है कई खिलाड़ियों ने राष्ट्रीय व् अंतर्राष्ट्रीय पदक जीतकर हरियाणा प्रदेश का नाम रोशन किया है और इस बार ज्ञान की परीक्षा में भी हरियाणा ने अच्छी धनराशि जीती है। 

Post A Comment: