साकेत जैन सिवनी ब्यूरो।घंसौर स्थानीय शासकीय महाविद्यालय में आज संपन्न हुए छात्र संगठन चुनाव में छात्र छात्राओं में सुबह से ही चुनावी प्रक्रिया को लेकर काफी उत्साह देखा गया जैसा की नवनिर्मित भवन में पहली बार छात्र संगठन का चुनाव हुआ। चुनावों की घोषणा के साथ-साथ क्षेत्र की समस्त राजनीतिक पार्टियों ने अपने अपने दांव पर लगाने प्रारंभ कर दिए।जहां इस महाविद्यालय पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद एनएसयूआई और गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के समर्पित छात्रों ने अपनी अपनी जीत के प्रारंभ में ही दावे कर दिए थे लेकिन जैसे जैसे चुनाव की तारीख नज़दीक आती गई वैसे ही एनएसयूआई और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद पूरे दमखम के साथ चुनाव में नहीं उतर सकी। शासकीय महाविद्यालय में लगभग 80% आदिवासी छात्र छात्राएं अध्ययन करते हैं घंसौर का क्षेत्र भी आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र माना जाता है इस कारण जातीय समीकरण के आधार पर गो.ग.पा. को समर्पित उम्मीदवार के पक्ष में सभी आदिवासी छात्र छात्राओं ने उनके पक्ष में मतदान किया।अध्यक्ष कु माया ककोडिया,उपाध्यक्ष कु वर्षा ककोडिया और सचिव पड़ के लिए कु पूजा उईके विजयी हुई।कहा जा रहा है कि मध्य प्रदेश में घंसौर का पहला महाविद्यालय है जहां की गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के समर्पित उम्मीदवार को सफलता प्राप्त हुई है और यदि आगामी विधानसभा तक गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के कार्यकर्ताओं में इसी प्रकार का जोश बना रहा तो निश्चित ही आगामी विधानसभा चुनाव में गोंडवाना गणतंत्र पार्टी का लखनादौन विधानसभा का विधायक होगा चुनाव संपन्न होने के बाद गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के सैकड़ों युवाओं ने कहा की चुनावी प्रक्रिया की पहली कड़ी में हमारी जीत हुई है और अब हमारा अगला लक्ष्य लखनादौन विधानसभा में कांग्रेस,भारतीय जनता पार्टी और अन्य राजनीतिक दलों को पछाड़ते हुए गोंडवाना गणतंत्र पार्टी का विधायक बनाना है।चुनावी प्रक्रिया में मुख्य रूप से गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के संभागीय युवा अध्यक्ष समरजीत सिंह सोलंकी की भूमिका की सभी गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं ने सराहना की है।

Post A Comment: