ब्रजेश /पंकज 
की रिपोर्ट :- जिले के खानपुर प्रखंड में एक साथ 126 प्रारंभिक स्कूलों की औचक जांच रिपोर्ट डीपीओ, प्रारंभिक शिक्षा व सर्वशिक्षा देवविंद कुमर सिंह ने डीएम प्रणव कुमार को भेज दी है। जांच रिपोर्ट में उन्होंने गड़बड़ी के लिए चिन्हिंत कई शिक्षकों पर कार्रवाई की भी अनुशंसा की है। रिपोर्ट की कॉपी उन्होंने डीईओ सत्येन्द्र झा के अलावा संबंधित अधिकारियों को भी भेजी है।
17 नवम्बर, 2017 को डीपीओ सर्वशिक्षा के नेतृत्व में 52 जांच टीम द्वारा सभी स्कूलों की जांच की गई थी। डीपीओ ने बताया कि डीएम के निर्देश पर उनके द्वारा चलाए मिशन परख अभियान में खानपुर प्रखंड के सभी स्कूलों की जांच के दौरान बिना सूचना के 15 शिक्षक स्कूलों से गायब मिले थे। 17 बालक व 16 बालिका विद्यालयों में शौचालय बंद पाए गए। कुल शिक्षकों में 76 प्रतिशत शिक्षक ही स्कूलों में उपस्थित थे।16 शिक्षक प्रतिनियोजित दिखाए गए थे। 19 स्कूलों की बाल पंजी अद्यतन नहीं थी। 8 ऐसे स्कूल मिले जिनमें 3 या इससे अधिक शिक्षक अवकाश में पाए गए थे। निरीक्षण के दिन स्कूलों में कुल 20,981 बच्चों का भोजन बना था। पिछले एक सप्ताह का औसत 20004 था। और इस तरह औसतन कई स्कूलों ने एमडीएम में 10 प्रतिशत से अधिक फर्जीवाड़ा की। अब गड़बड़ी करने वाले सभी लोगों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।इस जांच के बाद पूरे जिले के अधिकांश प्रधानाध्यापक में एक अजीब सा डर बना हुआ है।खास कर वो एचएम को फर्जीवाड़े के सहारे लूट खसूट करते हैं।

Post A Comment: