ब्रजेश /पंकज की रिपोर्ट  :- समस्तीपुर जिले के ताजपुर चर्चित मोतीपुर सब्जी मंडी में ब्यबसाय कर रहे किसान एक बार फिर खून के आंसू रोने को मजबूर है। किसानों के आग्रह पर भाकपा माले की टीम प्रखंड सचिव सुरेंद्र प्रसाद सिंह के नेतृत्व में किसान नेता ब्रहमदेव प्रसाद सिंह, राजदेव प्रसाद स़िह आदि  के साथ सब्जी मंडी पहुँचे। आज फूलगोवी विक्रेता किसान, गद्दीदार एवं व्यापारी से मौके पर खरीद- बिक्री के दौरान
2 रूपये प्रति किलो फूलगोवी, 3 रू० बैगन, 3 रू० लंबा कद्दू, 4-5 रू० गोल कद्दू, 18 रू हरा मिर्च, 6-7 रु० मूली, बंधागोवी 8-9 रू० समेत अन्य सब्जी का दर जारी रहा।सबसे खास बात रही कि फूलगोवी, बैगन, कद्दू उत्पादक किसान बुरी तरह बर्बादी के कागार पर है। किसान संजीव राय ने कहा कि मजदूरी एवं भारा भी नहीं हो पाता है।उन्होंने कहा कि सब्जी समेत खेत वे जोतबा देना चाहते है। गद्दीदार दशरथ सिंह एवं भाग्यनारायण साह ने कहा कि 70 रू० प्रति गद्दी ठेकेदार को देना पडता है। 100 रू० स्टाफ को देना पड़ता है। गद्दीदार 1 रू० प्रति किलो किसान से लेते है। फतेहपुर के एक किसान ने बताया कि तीन क्विंटल फूलगोवी मंडी में लाये। 6 सौ रू में बिका, 3 सौ रू० गद्दीदार लिया, 150 रू ठेला भाडा दिया, घर से 150 लगाकर 3 सौ रु० मजदूर को दिया।इस स्थिति में ही तो किसान आत्महत्या करने को मजबूर हो जाते हैं अगर यही हालात रही तो हमलोग सब्जी की खेती छोड़ने को मजबूर हो जाएंगे। ऐसे में किसानी अब बिल्कूल घाटे का सौदा हो गया है। यही हाल लगभग सभी स्थानीय सब्जी का है। नेताओं ने प्रखंड कृषि पदाधिकारी से मुआवजा का मांग किया है अन्यथा आंदोलन चलाने की धमकी भी  दी है।

Post A Comment: