बेबुनियाद हैं BDO से अभद्रता के आरोप-विजय तिवारी

जनपद उपाध्यक्ष ने BDO के आरोपों को नकारा
जिला कलेक्टर ने भेजा है कारण बताओ नोटिस

साकेत जैन सिवनी म प्र।

जनपद पंचायत घंसौर में पदस्थ BDO उषा किरण गुप्ता ने जनपद उपाध्यक्ष एवं शिक्षा समिति अध्यक्ष पंडित विजय तिवारी के विरुद्ध अभद्रता करने का आरोप लगाते हुए इसकी शिकायत अपने वरिष्ठ अधिकारियों से करते हुए कार्यवाही की मांग की है। वही उक्त मामले में को संज्ञान में लेते हुए जिला कलेक्टर गोपाल चंद्र डाड ने जनपद उपाध्यक्ष को कारण बताओ नोटिस भेजकर 4 दिसंबर को उपस्थित होकर जवाब पेश करने को कहा है।वही जनपद उपाध्यक्ष ने BDO द्वारा लगाए गए आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए कहा है कि वह 7 नवंबर को उनके जनपद क्षेत्र से पहुंचे आवास योजना के हितग्राहियों की समस्या लेकर BDO से मिलने पहुंचे थे उक्त अधिकारी से किसी तरह की अभद्रता व सम्मान को ठेस पहुंचाने वाले शब्दों का इस्तेमाल नहीं किया उन्होंने बताया कि मामला यह है कि जनपद में पदस्थ अधिकारियों द्वारा आवास योजना के हितग्राहियों को बेवजह परेशान किया जा रहा है।जनपद क्षेत्र के चटुआ ग्राम के हितग्राहियों को बेवजह नोटिस भेजकर मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है।यह नोटिस जनपद पंचायत द्वारा प्रस्तुत दस्तावेजों के आधार पर अनुविभागीय दंडाधिकारी घंसौर द्वारा हितग्राहियों के पास भेजा गया है जबकि ऐसे दर्जनों हितग्राहियों के आवास निर्माण की स्थिति की जांच किए बिना उन्हें नोटिस भेजा गया हकीकत में ऐसे हितग्राहियों ने जारी किस्त अनुरूप शत प्रतिशत कार्य पूर्ण करा लिया है क्षेत्र की जनता की परेशानियों को दृष्टिगत रखते हुए मामले के संबंध में बात करने पहुंचे थे लेकिन BDO से कोई अभद्रता नहीं किया अधिकारी अपनी लापरवाहियों को छिपाने के लिए बेवजह आरोप लगाने उतारू है।2 सप्ताह बाद शिकायत के आधार पर जिला कलेक्टर ने नोटिस जारी किया है आरोप लगाते हुए बताया कि जनपद उपाध्यक्ष सहित सभी जनपद सदस्य व सरपंच यहां पदस्थ अधिकारियों की मनमानी से परेशान हैं।कोई भी अधिकारी जन हितेषी कार्यों से सरोकार नहीं रखना चाहता कार्यालय में बैठकर केवल कागजी  खानापूर्ति कर शासन की योजनाओं को पलीता लगाया जा रहा है।

Post A Comment: