अभिषेक कुमार की रिपोर्ट ,वैशाली :विश्व प्रसिद्ध सोनपुर पशु मेला थियेटरों के शोरगुल से गुलजार हो रहा है. प्रशासन ने पहले थियेटरों को लाइसेन्स देने से मना कर दिया था, लेकिन सोनपुर मेले के दुकानदारों और व्यापारियों के विरोध के चलते आखिरकार प्रशासन को झुकना पड़ा.वहीं, थियेटर खुलने से एकाएक सोनपुर मेले में रौनक आ गई. अब मेला घूमने आने वालों की संख्या भी बढ गई है. इससे पहले थियेटर नहीं चलने से हरिहरनाथ मंदिर के पुजारी भी मायूस हो गए थे. उनके यजमानों की संख्या में गिरावट आ गई थी, लेकिन अब सब ठीक हो गया है. थियेटरों को लाइसेंस देने के साथ ही प्रशासन ने सख्त चेतावनी दी है कि अगर थियेटर में अश्लील डांस हुए या शराब का सेवन हुआ, तो लाइसेन्स तत्काल प्रभाव से रद्द कर दिया जाएगा.हांलाकि थियेटर मालिकों को हर रोज लाइसेंस लेना पडता है. सभी थियेटर में सीसीटीवी कैमरे लगे हैं, जिसका कंट्रोल प्रशासन के पास है. जिला कार्यक्रम अधिकारी भी इसकी निगरनी करते हैं, ताकि थियेटर में कोई अश्लीलता न हो. मालूम हो कि सारण के एसपी ने सोनपुर मेला में थियेटरों को अचानक लाइसेंस देने से मना कर दिया था, क्योंकि उन्हें डर था कि थियेटर की आड़ में अश्लीलता फैलेगी.दिलचस्प बात यह है कि उनको यह ख्याल तब आया, जब थियेटर वाले अपना साजों-समान और तामझाम सोनपुर मेले में लगा चुके थे. यहां तक कि थियेटर में काम करने वाली डांसर भी पहुंच चुकी थीं. प्रशासन के इस फैसले का काफी विरोध हुआ. डांसरों के साथ-साथ दुकानदारों और व्यापारियों ने भी एक दिन की हड़ताल कर अपना विरोध जताया, तब जाकर प्रशासन ने लाइसेंस देने को तैयार हुआ.

Post A Comment: