सोनपुर मेले में लाइसेंस नहीं मिलने से नाराज थियेटरों की नर्तकियों का हंगामा अभिषेक के साथ राजाबाबू ,वैशाली : पिछले छह दिनों से बंद मेले के सभी नौ थियेटरों की नर्तकियों और कलाकारों का गुस्सा मंगलवार को भड़क गया और उन्होंने सोनपुर मेले में प्रदर्शन करते हुए सड़क जाम किया और पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। नर्तकियों और कलाकारों के प्रदर्शन और सड़क जाम से सोनपुर मेला क्षेत्र में लगभग एक घंटे तक मेला क्षेत्र का माहौल अस्त-व्यस्त रहा और हजारों की भीड़ जुट गयी। लगभग साढ़े चार बजे शाम में मेले के सभी 9 थियेटरों के 600 से अधिक नर्तकियों और कलाकारों का जत्था पर्यटन विभाग के मुख्य पंडाल में पहुंचा और वहां धरना देना शुरू किया। सैकड़ों कलाकारों ने पर्यटन विभाग और रेल ग्राम के बीच से गुजरने वाली सड़क को जाम कर दिया, जिससे मेले में लोगों का आवागमन प्रभावित हुआ। मेले में लगे शोभा सम्राट, न्यू शोभा सम्राट, दी ग्रेट शोभा सम्राट, पायल एक नजर, शोभा थियेटर आदि के कलाकारों का कहना था कि थियेटरों को लाईसेंस नहीं मिलने से उनके समक्ष आर्थिक संकट कायम हो गया है। प्रशासन को अगर थियेटर नहीं चलाना है तो मत चलाए लेकिन उनके आने जाने में हुए खर्च और परेशानी के एवज में दो-दो लाख का मुआवजा दे। सभी प्रशासन पर मनमानी करने का आरोप लगा रही थी। डांसरों का यह भी कहना था कि अश्लील प्रदर्शन के नाम पर थियेटरों को लाईसेंस नहीं दिया जा रहा है जबकि स्थिति यह है कि किसी थियेटर में शो शुरू नहीं हुआ तो फिर अश्लीलता का सवाल ही कहा से उठता है। दूर-दूर से व दूसरे राज्यों से आयीं डांसरों की आर्थिक दयनीय हो गयी है। कुछ ने बताया कि पैसे के अभाव में भोजन पर भी आफत आ गयी है।इस बीच थियेटर के संचालकों ने बताया कि एक-एक थियेटर के निर्माण पर लगभग 25-25 लाख रुपए खर्च हुए हैं। जो प्रशासन की शर्तें थी उनके अनुसार थियेटरों की सारी व्यवस्था की गयी। लेकिन मेला के छह दिन गुजर जाने के बाद भी शो शुरू करने का लाईसेंस नहीं दिया जा रहा है। जाम की सूचना मिलने पर एक पुलिस पदाधिकारी जवानों के साथ पहुंचे और समझाने का प्रयास किया पर उन्हें भी डांसरों का आक्रोश झेलना पड़ा। बाद में मेला समिति के सदस्य राम विनोद सिंह, रामबालक सिंह, बिंदू सिंह आदि ने उन्हें समझा-बुझाकर प्रदर्शन और जाम समाप्त कराया। दूसरी ओर कलाकारों ने बताया कि अगर लाईसेंस नहीं दिया गया तो बुधवार को पूरा मेला बंद कराएंगे। डीएम ने बताया िक पुलिस के वरीय पदाधिकारी सारी स्थिति की समीक्षा कर रहे हैं। उनकी रिपोर्ट आने के बाद ही थियेटरों को चालू करने है या नहीं इसके संबंध में कोई अगली कार्रवाई की जाएगी।

Post A Comment: