अभियान से जुड़ा हर अधिकारी व कर्मचारी पूरी जिम्मेदारी के साथ अपने उत्तरदायित्वों का निर्वहन करें: जिलाधिकारी

शुभम मिश्रा /अजित यादव ,बहराइच:
टीकाकरण अभियान से वंचित 0 से 02 साल तक के बच्चों सहित गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण के लिए सघन मिशन इन्द्रधनुष का द्वितीय चरण जनपद में 07 से 17 नवम्बर 2017 तक संचालित किया जायेगा। केन्द्र सरकार द्वारा संचालित मिशन इन्द्रधनुष के द्वितीय चरण अन्तर्गत टीकाकरण के लिए 32583 गर्भवती महिलाओं तथा 55217 बच्चों को चिन्हित किया गया है। अभियान को सफल बनाने के लिए 312 एएनएम, 1698 आशा तथा 1184 आॅगनबाड़ी कार्यकत्रियों का सहयोग प्राप्त किया जायेगा। 
मिशन इन्द्रधनुष के द्वितीय चरण को सफल बनाने के लिए ठाकुर हुकुम सिंह किसान डिग्री कालेज में जिलाधिकारी अजय दीप सिंह की अध्यक्षता में एएनएम कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसमें हेल्थ विज़ीटर, सुपरवाईज़र, सेक्टर सुपरवाईज़र, अधीक्षक व प्रभारी चिकित्साधिकारी भी मौजूद रहे।  
मुख्य चिकित्साधिकारी डा. एके पाण्डेय ने कार्यशाला को सम्बोधित करते हुए बताया कि गर्भवती महिलाओं एवं बच्चों को गलाघोटू, काली खाॅसी, टेटनेस, क्षयरोग, पोलियो, हेपेटाइटिस बी, खसरा, निमोनिया, हीमो फिलस इन्फलूएन्जा टाइप बी, जापानी इन्सेफेलाइटिस या दिमागी बुखार जैसी 10 जानलेवा बीमारी से सुरक्षा के लिए जनपद में 07 से 17 नवम्बर तक संचालित किया जायेगा। उन्होंने बताया कि गत अभियान में सामने आयी कमियों का निराकरण कर द्वितीय चरण के लिए फुलप्रूफ कार्ययोजना तैयार कर ली गयी है। उन्होंने कहा कि प्रथम चरण में खराब कार्य करने वाले अधिरकारियों एवं कर्मचारियों को प्रगति में सुधार लाने की चेतावनी जारी की गयी है। उन्होंने सभी सम्बन्धित से अपेक्षा की कि शासन की मंशानुरूप अभियान को सफल बनाने में हर संभव सहयोग प्रदान करें। 
कार्यशाला को जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. अजीत चन्द्रा, डीसीपीएम मोहम्मद राशिद, यूनीसेफ के संतोष श्रीवास्तव व अन्य वक्ताओं ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर डा. संजीव कुमार, डा. पीके बांदिल, डा. अनिल, डा. योगिता जैन, डीएचईआईओ सुनील सिंह व अन्य सम्बन्धित मौजूद रहे।

Post A Comment: