बिहार ब्यूरो : जहरीली शराब कांड के आरोपित जदयू नेता का सीएम नीतीश कुमार के संग फोटो व सेल्फी वायरल प्रकरण को ले जदयू के जिलाध्यक्ष अशोक कुमार शर्मा ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने इस प्रकरण को ले पार्टी की हो रही किरकिरी से आहत होकर नैतिकता के आधार पर यह कदम उठाया है और प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह को त्याग पत्र भेजा है। अध्यक्ष ने पत्र में कहा है कि उन्हें उदवंतनगर प्रखंड जदयू अध्यक्ष के जहरीली शराब कांड के आरोपित होने के बारे में पहले से जानकारी नहीं थी। इसीलिए वे पार्टी को अवगत नहीं करा पाये थे।हालांकि इस चूक के लिए वे अपनी जिम्मेवारी स्वीकार करते हैं। उनकी इस चूक के चलते पार्टी समेत सीएम को भी सवालों के घेरे में आना पड़ा, इससे मर्माहत हो वे अपने पद बने रहना नहीं चाहते हैं। हालांकि वे पार्टी में रहकर सेवा करते रहेंगे। जिला अध्यक्ष भी आरोपित उदवंतनगर प्रखंड अध्यक्ष प्रकाश कुमार सिंह उर्फ राकेश कुमार सिंह को सीएम आवास ले जाने को ले सवालों के घेरे में थे। हालांकि इस पर जिलाध्यक्ष ने सफाई दी कि प्रखंड अध्यक्ष दहेज विरोधी अभियान के नायक बने रिटायर्ड एचएम हरींद्र सिंह के रिश्तेदार हैं। इस नाते वे सीएम आवास उनके साथ चले गये थे।मालूम हो कि करीब साल भर पहले उदवंतनगर प्रखंड जदयू के अध्यक्ष चुने गये प्रकाश कुमार सिंह उर्फ राकेश कुमार सिंह 2012 में जहरीली शराब कांड के नामजद आरोपित रहे हैं। उन्हें उक्त मामले में जेल भी जाना पड़ा था। हाल में ही बेटे की शादी के लिए लिये गये दहेज के चार लाख रुपये लौटाकर सुर्खियों में आये रिटायर्ड एचएम हरींद्र सिंह और जदयू जिलाध्यक्ष अशोक शर्मा के साथ राकेश सिंह भी सीएम आवास पर चले गये थे। इस दौरान राकेश ने सीएम के साथ न केवल फोटो खिंचाया, बल्कि सेल्फी भी ली। इसे ले सूबे की राजनीति गरमा गई और खूब आरोप-प्रत्यारोप हुए। इसे ले राकेश को न केवल पद से हटाया गया, बल्कि उन्हें पार्टी से ही बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था

Post A Comment: