रिपोर्ट :- सुनील वर्मा, पानीपत

 देश आजाद होने के बाद हमारे सविंधान केमाध्यम से  समाज को दिया गया एससी, एसटी ओबीसी आदि जातियों में बांटकर दिए गए 
जातिगत आरक्षण के वीरोध में राष्ट्रीय जातिगत आरक्षण विरोधी पार्टी ने एक हस्ताक्षर अभियान चलाया जिसका मकसद लोग जाती के आधार पर दिए गए आरक्षण का विरोध करे और ज्यादा से ज्यादा इस मुद्दे पर अपने हस्ताक्षर कर विरोध प्रकट करें ताकि इस व्यवस्था को बदलने का प्रयत्न किया जा सके। 
 देश में चल रहे जातिगत आरक्षण के विरोध में राष्टीय जातिगत आरक्षण विरोधी पार्टी ने एक जन चेतना अभियान चलाया है। आयोजकों के अनुसार जातीगत आरक्षण जहरीले नाग की तरह समाज को डस रहा है इस व्यवस्था को बदलवाने के लिए हस्ताक्षर अभियान चलाया गया ताकि सरकार के सामने विरोध को सर्ज करवाया जा सके और आरक्षण में आमूलचूल परिवर्तन करवाया जा सके।  आरक्षण व्यवस्ता को पूरी तरह ख़त्म कर केवल आरक्षण की सुविधा उसे ही मिले जो आर्थिक रूप से कमजोर हो। इसलिए हमारी पार्टी ने यह हस्ताक्षर अभियान चलाया है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इस अभियान से जुड़ सके। 

Post A Comment: