ब्यूरो 
शुभाम शंकर मिश्र

विद्युत राजस्व वसूली कम होने पर दण्डित होंगे अधिकारी: अजीत सिंह

 मध्याॅचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड लखनऊ के निदेशक (तकनीकी) अजीत सिंह द्वारा देवीपाटन क्षेत्र गोण्डा के दो दिवसीय भ्रमण के दौरान अधीक्षण अभियन्ता कार्यालय, बहराइच में बहराइच व श्रावस्ती के अन्तर्गत राजस्व वसूली व विकास कार्यों की वृहद समीक्षा की गयी। श्री सिंह ने समीक्षा के दौरान जनपद बहराइच के अन्तर्गत विद्युत वितरण खण्ड-द्वितीय, नानपारा एवं श्रावस्ती के विद्युत वितरण खण्ड, श्रावस्ती के लक्ष्य के सापेक्ष राजस्व वसूली न्यूनतम पाये जाने पर नाराजगी व्यक्त की।
श्री सिंह ने विद्युत वितरण खण्ड श्रावस्ती को राजस्व निर्धारण 04 करोड़ के सापेक्ष कम से कम 03 करोड़ वसूली करने तथा प्रत्येक अवर अभियन्ता द्वारा माह में 250 अदद बकायेदारों के विद्युत विच्छेदन करने, विच्छेदन के फलस्वरूप कनेक्शन जोड़ने के आरोप में धारा-138(बी) के अन्तर्गत प्राथमिकी एवं विद्युत चोरी में धारा 135 के अन्तर्गत प्राथमिकी दर्ज कराये जाने का निर्देश दिया। उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि बिलिंग एजेंसी द्वारा माहवार बिलिंग कलेण्डर बना कर बिलिंग कराते हुए उन स्थानों पर विभाग द्वारा कैम्प आयोजित कर राजस्व वसूली करने तथा एपीएल एवं बीपीएल के नये संयोजन निर्गत किये जाएं। 
समीक्षा के दौरान श्री सिंह ने बहराइच अन्तर्गत शहरी क्षेत्र में कार्यरत मेसर्स आर्यन एजूकेट लि. की बिलिंग अत्यन्त कम होने एवं मानक के अनुरूप मीटर रीडर न होने पर 01 माह की नोटिस देकर कार्य मंे अपेक्षित सुधार लाने, जनपद श्रावस्ती अन्तर्गत बिलिंग एजेन्सी वीर इंफ्राटेक द्वारा लगभग 50 प्रतिशत ही बिलिंग पाये जाने पर नाराजगी व्यक्त की तथा एक माह में बिलिंग 75 प्रतिशत से अधिक न होने पर सख्त कार्यवाही के निर्देश दिये। उन्होंने मेसर्स एनसीसी लिमिटेड द्वारा बहराइच में कराये जा रहे कार्यों पर असंतोष व्यक्त करते हुए ऊर्जीकरण का कार्य तेज करने एवं 174 मजरों को 01 सप्ताह के अन्दर ऊर्जीकृत कराये जाने का निर्देश दिया। 
समीक्षा बैठक के दौरान श्री सिंह ने निर्देश दिया कि बहराइच के समस्त नलकूपों के लिए अलग से पोषक निर्मित करने के कार्य अन्तर्गत 12 पोषकों में से इस माह कम से कम दो पोषकों को ऊर्जीकृत कर दिया जाय। उन्होंने प्राइवेट नलकूपों को संयोजन देने के कार्य की प्रगति में सुधार लाकर अवशेष 09 प्राइवेट नलकूपों की विद्युत सामग्री एक सप्ताह के अन्दर विद्युत भण्डार केन्द्र से उठाकर माह के अन्त तक सभी नलकूपों को ऊर्जीकृत का कार्य पूर्ण करने तथा अण्डर ग्राउन्ड केबलिंग में पायी गयी कमियों को माह के अन्त तक दूर करने का निर्देश दिया। 03 अदद 33/11 केवी उपकेन्द्रों भकला, न्यू जरवल एवं उर्रा (मिहींपुरवा) का निर्माण कार्य की समीक्षा के दौरान माह नवम्बर में भकला उपकेन्द्र ऊर्जीकृत करने पर फर्म द्वारा सहमति प्रदान की गयी।
समीक्षा के दौरान पाया गया कि अनकनेक्टेड रूरल हाउस होल्ड को कनेक्ट करने का कार्य मेसर्स पेस पावर प्रा.लि. द्वारा कराया जा रहा है। जनपद अन्तर्गत 1024 मजरों के सापेक्ष 88 मजरों में कार्य पूर्ण कराया जा चुका है तथा 119 बीपीएल कनेक्शन निर्गत किये गये हैं। उन्होंने निर्देश दिया कि किन्ही दो मजरों को चिन्हित कर कार्य की गुणवत्ता की जांच करायी जाय और खराब गुणवत्ता पाये जाने पर सख्त कार्यवाही भी की जाय। उन्हांेने महसी एवं सहाबा विद्युत उपकेन्द्र पर क्षमता वृद्धि कार्य की प्रगति असंतोषजनक पाये जाने पर फर्म को कार्य प्रणाली में सुधार लाने व माह के अन्त तक दोनों उपकेन्द्रों की क्षमता वृद्धि करने का निर्देश दिया।  
जनपद भ्रमण कार्यक्रम के दौरान श्री सिंह ने ट्रांसफार्मर विद्युत कार्यशाला, बहराइच का निरीक्षण किया और बन रहे परिवर्तकों की गुणवत्ता परखी एवं मीडियम पावर परिवर्तकों की टेस्टिंग अपने समक्ष करायी। उन्होंने परिवर्तकों की कोर साफ करने, कार्यशाला की साफ-सफाई एवं भण्डारण एक सप्ताह में ठीक कराये जाने का निर्देश दिया। विद्युत भण्डार केन्द्र के निरीक्षण के दौरान उन्होंने विद्युत सामग्री की उपलब्धता सुनिश्चित करने का निर्देश दिया जिससे विद्युतीकरण कार्य प्रभावित न हो। विद्युत भण्डार केन्द्र मंे पर्याप्त साफ-सफाई, प्रकाश की व्यवस्था एवं भण्डारण की व्यवस्था ठीक न पाये जाने पर रोष व्यक्त करते हुए एक सप्ताह के अन्दर कमियों को दूर करने का भी निर्देश दिया।  
इस अवसर पर मुख्य अभियन्ता देवीपाटन मण्डल गोण्डा आरके श्रीवास्तव, अधी.अभि. रवीन्द्र कुमार, अशोक कुमार, एके ओझा, अधि.अभि. टीआर श्रीवास्तव, सुनील कुमार, अधि.अभि. टेस्ट, स्टोर व वर्कशाप एवं समस्त उपखण्ड अधिकारी, अवर अभियन्ता, विद्युतीकरण एवं बिलिंग का कार्य कर रही समस्त एजंेसी के प्रतिनिधि उपस्थित रहे। 

Post A Comment: