ब्रजेश /पंकज की रिपोर्ट :
समस्तीपुर: हसनपुर  प्रखंड के पंचायत समिति भवन के सभा कक्ष में प्रखंड प्रमुख मंजू देवी की अध्यक्षता में पंचायत समिति की बैठक की गई मौके पर स्थानीय विधायक राजकुमार राय, प्रखंड विकास पदाधिकारी प्रेम कुमार यादव ,अंचलाधिकारी अरुण कुमार, एमओ सुमित कुमार, जितेंद्र कुमार विमल ,हसनपुर प्रखंड जदयू अध्यक्ष संजीव कुमार कुशवाहा,विजय यादव,गीता यादव, रामचंद्र पासवान, सुधांशू कुमार पप्पू, संजय गुप्ता, सहित सभी पंचायत समिति सदस्य एवं मुखिया जी इस बैठक में भाग लिए यह एक समीक्षा बैठक के रूप में की गई जिसमें प्रखंड के विभिन्न समस्याओं को स्थानीय विधायक राजकुमार राय सभी जनप्रतिनिधियों एवं पदाधिकारियों के माध्यम से सुने और संबंधित विभागीय पदाधिकारियों को समस्या के समाधान के लिए बोले इस बैठक में खासकर सरकारी जमीनों पर अवैध कब्जा होने की शिकायत कई पंचायतों के मुखिया एवं पंचायत समिति सदस्य के द्वारा अंचलाधिकारी से की गई परंतु अंचलाधिकारी के लापरवाही के कारण अभी तक समस्या का समाधान नहीं हो पाया था जिसमें खासकर हसनपुर बाजार में लगने वाले जाम से सभी परेशान होते हैं वही अधिकांश मुखिया का आरोप यह भी था कि हम लोगों के यहां आवास सहायक के द्वारा अवैध उगाही कम से कम 5000 से  20000 तक की जा रही है वही आवास सहायक मुखिया से मिलकर कुछ बात करना भी मुनासिब नहीं समझते वह कुछ मुखिया का आरोप यह भी था कि एम0 मो0 के द्वारा यह जानकारी होनी चाहिए जन वितरण विक्रेता हमारे पंचायत में खाद्य एवं किरासन तेल का उठाव एवं वितरण कब होता है यह जनप्रतिनिधियों को पता भी नहीं चलता वही डीलरों के द्वारा  लूट खसोट की जाती है वही आंगनबाड़ी केंद्रों पर ना बच्चा को पढ़ाया  जाता है और ना ही मीनू के हिसाब से कभी कुछ दिया जाता इस बात को सभा में बैठे अधिकांश मुखिया एवं पंचायत समिति ने विधायक से कहे की सीडीपीओ मैडम अधिकांश केंद्रों से 2,000 से ₹2500 लेती है और फिर उसके अंदर का बचाव करती रहती है और कभी देखने के लिए भी नहीं जाती की केंद्र पर सरकार के नियम के हिसाब से क्या हो रहा है या नहीं और अधिकांश समय सीडीपीओ मैडम का ऑफिस का ताला लगा ही रहता है सभी की शिकायतें सुनने के बाद विधायक राजकुमार राय ने स्पष्ट शब्दों में चेतावनी भरे लहजे में बोले की आप लोग सभी पदाधिकारियों आज तक जो किए सो किया आज के बाद हमारे कानों तक यह शिकायत कभी नहीं आनी चाहिए वही सभी जनप्रतिनिधियों को यह विश्वास दिलाया कि आगे से आप लोगों के कामों में वह प्रखंड के किसी भी विभाग का हो उसमें किसी को ₹1 घूस के रूप में नहीं देना है और अगर काम करने में कोई भी पदाधिकारी पैसा की मांग करते हैं तो आप मुझे लिख सकते हैं मैं उस पर कार्रवाई कर पाऊंगा चाहे वह कोई भी साहब हो बख्शे नहीं जाएंगे खासकर आवास सहायक जो भी गरीब लाभुकों से इंदिरा आवास के पैसा दिलाने के नाम पर अवैध उगाही किया वह उसे वापस लौटा दे आज जिस तरह से विधायक राजकुमार राय ने सभी जनप्रतिनिधियों एवं पदाधिकारियों के सामने बोले हैं अगर ऐसा होने लगा तो निश्चित रूप से ही हसनपुर प्रखंड सबसे आगे होंगे वही इस बैठक में विधायक  ने मुख्यमंत्री
के सात निश्चय योजना पर भी जोर देने की बात कहे खासकर हर घर नल जल योजना जिसका पैसा सरकार सभी पंचायतों को दे चुके हैं परंतु काम की रफ्तार बहुत धीमी है

Post A Comment: