*कानपुर* *देहात से सौरभ मिश्रा की रिपोर्ट :

 सिकन्दरा - स्थानीय कस्बा से 4 सौ मीटर की दूरी पर नहर के किनारे स्थित एक बाग में 22 वर्षीय युवक का शव मिलने से सनसनी फैल गई।सूचना मिलते ही पुलिस घटना स्थल पर पहुंची और घटना स्थल की घेराबन्दी करायी गई।फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट ने मौके पर पहुंच कर जांच की और जरूरी नमूने संकलित किये।हत्या की बजह प्रेम प्रसंग बताई जा रही है।
  बताया गया की  कस्बा का एक किसान जब सुबह करीब 9 बजे अपने गेंहूँ के खेत मे सिंचाई करने गया तो उसका ध्यान साबू अंसारी के बाग की ओर गया वहां एक युवक के पैर दिखाई देने पर उसे अनहोनी की जानकारी हुई और फिर कस्बा में आकर उसने लोगों को उक्त घटना की जानकारी दी।सूचना जंगल में लगी आग की तरह फैल गई और फिर थानाध्यक्ष व पुलिस उपाधीक्षक आलोक कुमार जायसवाल भी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे तथा लोगों के पहुंचने पर कुछ समय बाद अमराहट थाना क्षेत्र ग्राम  अरसुन बांगर निवासी राम बाबू ने उसकी शिनाख्त अपने छोटे बेटे दीपू यादव उम्र 22 के रूप में की।उसने बताया कि उसकी तीन बेटियां हैं रेशमा, विनीता, दीपना और तीनों के विवाह हो चुके हैं।लेकिन बड़े बेटे दिलीप व दीपू की अभी तक शादी नहीं हुई है।दीपू से गांव के रामदास की 307 की मुकदमे बाजी के कारण वह अपनी बहिन विनीता की ससुराल में विगत दो वर्षों से रह रहा था और वही से वह रिश्तदारों के साथ ट्रक पर हेल्फरी करने चला जाता था। 4 दिसम्बर को मुकदमे की तारीख को वह आया था और फिर वह मिला नही ।सोमवार को अमराहट थाने में उसकी गुमशुदगी की तहरीर दी लेकिन पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की।रामदास के बेटे शिवकुमार के साडू की लड़की सिकन्दरा में अपनी मौसी के साथ रहती है उससे नजदीकियों के कारण उक्त परिवार बेटे का दुश्मन बन गया था इसलिए शिवकुमार, रामदास, राजा सिंह व सतेन्द्र ने उसके बेटे की हत्या कर शव को बाग में फेंका है ।थानाध्यक्ष सुरेन्द प्रसाद सिंह ने बताया कि म्रतक की जेब से 4 सिमकार्ड, युवती की फ़ोटो ,एक लेडीज पीली धातु की व एक युवक की उंगली से अंगूठी मिली है।युवक के पिता की तहरीर पर चार लोगों के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।युवती का भी पता नहीं चल रहा है ।घटना के अन्य विन्दुओं पर भी जांच की जायेगी।शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है रिपोर्ट आने पर ही मौत की बजह स्पष्ट हो पाएगी।

Post A Comment: