आंगनवारी कर्मचारी संघ का  धरना 47वें दिन भी जरी 

सुल्तानपुर से अरुण साहू की रिपोर्ट :
सुल्तानपुर/अपने मानदेय बढ़ोत्तरी की मांग को लेकर नगर के तिकोनिया पार्क में आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ द्वारा दिया जा रहा धरना 47 वें दिन भी जारी रहा।प्रदेश के आह्वान पर बीते डेढ़ माह से चल रहे अनवरत धरने व् कार्य बहिष्कार का कोई संज्ञान न लेना प्रदेश सरकार व् जिला प्रशासन की समवेदनहीनता का जीता जगता उदाहरण है।कहने को तो इनका कार्य बाल विकास बिभाग के अंतर्गत आता है,किन्तु आंगनबाड़ियों से ही मतदाता सूची,चुनाव,बी एल ओ,बच्चों के वजन का कार्य,पोलियो ड्राप पिलाने आदि जैसे महत्वपूर्ण कार्य इनसे लिया जाता है।इसके बदले में तीन हजार रूपये का मासिक मानदेय ही दिया जाता है,जो ऊंट और जीरे की कहावत को ही चरित्रार्थ करता है।आज एक दैनिक मजदूर भी 250 रूपये की दिहाड़ी पाता है और हमें प्रशिक्षित होने के बाद भी मात्र 100 रूपये प्रतिदिन की दिहाड़ी प्रदेश में सत्ता रूढ़ योगी की सरकार दे रही है।उक्त बातें आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ सिटी परियोजना की अध्यक्ष विनीता तिवारी ने धरने को सम्बोधित करते हुए कहा।उन्होंने कहा की केंद्र व् प्रदेश की सरकारें हमारे धैर्य की परीक्षा न ले।पिछले 47 दिनों से हमारी बहनें लगातार शांति पूर्ण तरीके से धरना दे रही हैं।जनपद के कोने-कोने से आकर धरने पर दिन भर बैठना ,परिवार और बच्चों को छोड़कर हमारी बहनें अपने हक के लिए धरना दे रही है।शासन-प्रशासन इसे हल्के में न ले अन्यथा गम्भीर परिणाम भुगतने होंगे।अध्यक्षता जिलाध्यक्ष नीलम श्रीवास्तव व् सञ्चालन रीता मिश्रा ने किया।

Post A Comment: