ब्रजेश /पंकज की रिपोर्ट :

 दरभंगा कलक्ट्रेट के सभागार में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शराब माफियाओं से मिलीभगत के आरोप में हटाए गए एक थानाध्यक्ष की फिर से उसी थाने में पोस्टिंग करने को लेकर समस्तीपुर के एसपी की जमकर क्लास लिए। इस सिलसिले में समस्तीपुर एसपी दीपक रंजन से पूछने पर एसपी संतोषजनक जवाब नहीं दे सके। इस पर सीएम ने नाराजगी जताते हुए डीजीपी को समस्तीपुर एसपी के खिलाफ जांचोपरांत प्रशासनिक कार्रवाई करने का निर्देश दिया। इसके बाद सभी विभागीय अधिकारियों में खलबली सी मच गई। मुख्यमंत्री शुक्रवार को दरभंगा कलेक्ट्रेट के सभागार में प्रमंडल के तीनों जिले दरभंगा, समस्तीपुर व मधुबनी के सभी विकास कार्यों की समीक्षा कर रहे थे।इस दौरान मुख्यमंत्री ने सात निश्चय के अंतर्गत विकास कार्यों में दरभंगा के अलावा मधुबनी और समस्तीपुर में तेजी लाने का निर्देश दिया। उन्होंने बैठक में मौजूद अधिकारियों से सख्त लहजे में कहा कि कर्तव्यहीनता और कार्य में लापरवाही किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं की जाएगी। लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। इसी कड़ी में समस्तीपुर के एसपी को भी मुख्यमंत्री की नाराजगी का सामना करना पड़ा।सीएम ने विभिन्न जिलों के डीएम को निर्धारित लक्ष्य जल्द से जल्द पूरा करने का निर्देश दिया। उन्होंने बैठक में दरभंगा प्रमंडल के सभी वरीय अधिकारियों को कई जरूरी एवं आवश्यक दिशा निर्देश  दिए।वही अब सीएम का अगला दौरा समस्तीपुर सरायरंजन प्रखंड के झखरा में आज होना है जहाँ सभी तरह से सुरक्षा व्यवस्था भी चुस्त दुरुस्त कर लिया गया है।

Post A Comment: