एनएचएम कर्मचारी 3 फ़ाइल बाई सैंडस्पेसमेल अटैच विद स्क्रिप्ट



पानीपत से कुलदीप वर्मा की रिपोर्ट :-
 राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत स्वास्थ्य विभाग में काम कर रहे पानीपत जिले करीब आठ सौ कर्मचारी दो दिन की हड़ताल पर चले गए । लम्बे समय से ये कर्मचारी सामान काम सामान वेतन की मांग कर रहे थे। एनएचएम  कर्मचारियो को जो वेतन मौजूदा समय में मिल रहा हे वह उससे संतुष्ट नहीं हे क्योकि उनके समकक्ष सरकारी कर्मचारियों को उनके तीन गुना वेतन मिल रहा हे वह इस गैप को खत्म करने की मांग सरकार से कर रहे हैं उनकी मांग हे की अगर अभी यह संभव नहीं है तो उन्हें केंद्र व् राज्य सरकार द्वारा सातवे वेतन आयोग द्वारा की गई 14 .29  प्रतिशत की वृद्धि की डॉ से बढ़ाकर वेतन दिया जाये।  वेतन विसंगति को लेकर पिछले साल भी कर्मचारियों ने हड़ताल की थी। सीएमओ ने भी इस बात का समर्थन किया हे और कहा की आज जो कर्मचारी हड़ताल पर बैठे हैं इनकी रिपोर्ट उच्च अधिकारियों को भेजी जाएगी और कहा कि कर्मचारियो की हड़ताल के चलते स्वास्थ्य सेवाएं  प्रभावित होना लाजमी है  ।

 प्रदेश भर में 12  हजार के करीब एन एच एम कर्मचारी पिछले कई  वर्ष से स्वास्थ्य विभाग के अंदर विभिन्न पदों पर कार्य कर रहे है । ये कर्मचारी लम्बे समय से हरियाणा सरकार से सामान काम सामान वेतन की मांग कर रहे है कर्मचारियो का कहना है कि न ही उनकीं नोकरी में कोई प्रमोशन के विकल्प है और न ही कोई किसी प्रकार का भत्ता नही मिलता ।  पानीपत एन एच एम कर्मचारी संघ के प्रधान  मलिक ने बताया कि 26 अक्टूबर को उनकी तमाम मांगो को लेकर मुख्यमंत्री से बैठक हुई थी बैठक में उनकी मांगे जल्द करने का आश्वाशन दिया था लेकिन अब कर्मचारियो में इस बात को लेकर रोष है को उनकी मांगे इतना लंबा समय बीत जाने पर भी नही मानी गयी ।जिसके चलते कर्मचारियो में रोष है ।जिसके चलते नाराज कर्मचारी दो दिन की हड़ताल पर चले गए जिसकी वजह से दिनभर हॉस्पिटल में आये मरीजो को परेशानी उठानी पड़ी ।

Post A Comment: