न्यायालयों में भारतीय भाषा में कामकाज हेतु अधिवक्ताओं की बैठक

दिल्ली संवाददाता : राजेश तिवारी
स्वतंत्रता के वर्षों बाद भी भारतीय न्यायालयों के कामकाज में भारतीय भाषाओं की उपेक्षा के विरोध में अधिवक्ताओं के देशव्यापी संगठन भारतीय भाषा अभियान के निवासी कल्याण समितियां प्रकोष्ठ दिल्ली प्रांत की बैठक  द्वारका न्यायालय के अधिवक्ता कक्ष में आयोजित हुई जिसमें दिल्ली के सभी संसदीय क्षेत्र के संयोजक, सह-संयोजक एवं कार्यकारिणी सदस्यों ने सहभागिता की और दिल्ली स्थित निवासी कल्याण समितियां (आर डब्ल्यू ए), निगम पार्षद, विधायक, सांसद आदि जनप्रतिनिधियों से न्यायालयों में राजभाषा में कामकाज हेतु समर्थन पत्र एकत्र कर सम्बन्धित विभागों में भेजने की योजना बनाई, व इस दिशा में पूर्व में किए कार्यों की समीक्षा की। 
संगठन में संसदीय, विधानसभा, वार्ड स्तर पर विभिन्न अधिवक्ताओं को दायित्व देने के लिए चिन्हित किया गया जिनके नाम की घोषणा जनवरी माह की बैठक में की जाएगी।
ज्ञातव्य हो कि यह संगठन आर डब्ल्यू ए के सहयोग से स्थानीय निवासियों को कानूनी जानकारी एवं सलाह भी नि:शुल्क उपलब्ध करा रहा है।
बैठक में राघवेन्द्र शुक्ल प्रांत संयोजक, शर्मा, लक्ष्मी सहगल , मनीषा शौकीन, जितेन्द्र कुमार, राजकरण, प्रदीप बारी, बिनोद कुमार दुबे, मनोज कुमार सिंह, जितेन्द्र कुमार तिवारी, अमृत दास सहित अनेकों अधिवक्ताओं ने भाग लिया एवं अभियान को गतिशील करने का संकल्प लिया।

Post A Comment: