फैक्टरी में पति के मौत के मामले में इंसाफ की मांग को लेकर पहुंची एसपी कार्यालय
सुनील वर्मा की रिपोर्ट :

पानीपत, फैक्टरी में पति के मौत के मामले में फैक्टरी मालिकों पर हत्या का आरोप लगाते हुए इंसाफ की मांग करते हुए मृतक की पत्नी व बच्चे परिजनों के साथ आज पुलिस अधीक्षक से मिली। उन्होंने जांच कर उचित कार्यवाही कराने का आश्वासन दिया है। यहां लघु सचिवालय पहुंची सावित्री देवी पत्नी स्व.सुरेश कुमार ने बताया कि उनके पति सुरेश कुमार निवासी वार्ड न.8 चढाऊ मौहल्ला पानीपत के ही तहसील कैंप स्थित पटेल हैंडलूम पर पिछले 25 वर्षों से काम करते थे। इस वर्ष उन्होंने मालिक लीलाधर व 2 अन्य से महंगाई को देखते हुए अपना वेतन बढ़ाने की मांग की थी। आरोप है कि इसके बाद मालिकों ने वेतन नहीं बढ़ाया तो सुरेश ने काम छोड़ दिया तथा दूसरी जगह काम करना शुरू कर दिया। कुछ दिनों में दूसरे श्रमिक भी काम छोड़कर जाने लगे तो लीलाधर ने सुरेश को वहां से निकलवा दिया। कुछ दिन तक सुरेश घर पर ही रहा। इसी दौरान फैक्टरी मालिक लीलाधर उनके घर पर आया तथा सुरेश को वेतन बढ़ाने की बात कहते हुए अपने पास काम पर ले गया। सावित्री ने बताया कि 12 नवम्बर को रविवार को उनके पति सुरेश काम पर गए थे पर दोपहर तक नहीं लौटे जबकि रविवार को वह दोपहर तक आ जाते थे। उन्होंने दोपहर ढाई बजे मालिक लीलाधर को फोन किया तो उन्होंने बताया कि वह 1 बजे यहां से निकल गए थे। शाम को भी सुरेश के घर पर नहीं पहुंचने पर उन्होंने मालिक को फिर से फोन किया तो कर्मचारी ने फोन उठाया और कहा कि बता तो दिया कि वह 1 बजे चला गया है। सावित्री ने बताया कि सोमवार को मालिक का भतीजा नन्द किशोर उनके घर आया तथा सुरेश की तबियत खराब होने की बात कहते हुए उन्हें फैक्टरी चलने को कहा तो वह पड़ोसी के साथ वहां पर पहुंची इसी दौरान उनके देवर
सुनील उर्फ काका, मनोज, राजू व भतीजा संजय ठाकुर भी वहां पहुंच गए। मालिकों ने बताया कि सुरेश ऊपर कमरे हैं। जब हमने वहां जाकर देखा तो सुरेश कमरे में रहस्यमय परिस्थितियों में फंदे पर लटका हुआ था। सावित्री का आरोप है कि फैक्टरी मालिकों ने कुछ श्रमिकों के साथ मिलकर उनके पति को मारकर फंदे पर लटकाया है। पुलिस को वह ब्यान दे चुकी है पर पुलिस फैक्टरी मालिकों से मिली हुई है। इसलिए कुछ कार्यवाही नहीं कर रही है। इसलिए आज इंसाफ की मांग करते हुए पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा से मिली थी। उन्होंने शीघ्र जांच कराकर उचित कार्यवाही का आश्वासन दिया है। इस अवसर पर मृतक सुरेश की बेटी कुसुम, राखी, भाई सुनील, मीना, संगीता, संतोष, साक्षी व संजय ठाकुर आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

Post A Comment: