बहराइच जनपद मे कुश्ती के दाॅव पेंच के साथ सम्पन्न हुआ खेल सप्ताह
अजित कुमार यादव की रिपोर्ट :



बहराइच 28 दिसम्बर। खेल निदेशालय उत्तर प्रदेश के तत्वावधान में इन्दिरा गाॅधी स्टेडियम बहराइच में आयोजित खेल सप्ताह के अन्तिम दिन मुख्य अतिथि जिलाधिकारी अजय दीप सिंह ने फुटबाल, क्रिकेट, हाकी, बैडमिन्टन एवं कुश्ती प्रतियोगिता के विजेता, उप विजेता, निर्णायकों तथा मैच आफिशियल्स को पुरस्कार वितरण किया। गत दिवस बुधवार को खेल सप्ताह के अन्तिम दिन कुश्ती खेल की धूम रही। पुलिस अधीक्षक जुगुल किशोर द्वारा प्रातः काल में कुश्ती खेल का उद्घाटन किया गया। जबकि नगर मजिस्ट्रेट प्रमिल कुमार सिंह ने खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त कर उनका उत्साहवर्धन किया।

 खेल सप्ताह के अन्तिम दिन 10 अलग-अलग वज़न वर्गो में आयोजित कुश्ती प्रतियोगिता के 40-42 किलो वर्ग में प्रखर सिंह, छोटू व शुभम यादव, 42-46 किलो वर्ग में रितेश यादव, विश्वजीत पाण्डेय व अली यादव, 46-50 किलो वर्ग में राजन यादव, मनीष तिवारी व सुधांशु यादव, 50-54 किलो वर्ग में आशीष यादव, अनिकेश यादव व संदीप यादव, 54-58 किलो वर्ग में अखण्ड सिंह, आज़ाद व अजीज़ रहमान, 58-63 किलो वर्ग में विनय पाल, प्रदुमन व धन कुमार, 63-69 किलो वर्ग में जितेन्द्र यादव, नसीम व विजय, 69-76 किलो वर्ग में देवेन्द्र गिरि, देवेन्द्र यादव व आशु, 76-85 किलो वर्ग में अनिमेश सिंह, पवन यादव व विक्की सिंह तथा 85-90 किलो वर्ग में रोहित, शाहिद व मनोज तिवारी क्रमशः विजेता, उप विजेता तथा तृतीय स्थान प्राप्त किया। मैचों के दौरान मोहम्मद आरिफ व ताजू ने निर्णायक तथा हकीक अहमद व मोहित कुमार ने मैच आफिशियल्स की भूमिका निभाई।

खेल सप्ताह के समापन अवसर को सम्बोधित करते मुख्य अतिथि जिलाधिकारी अजय दीप सिंह ने कुश्ती प्रतियोगिता के आयोजन को सफल बनाने में मा. सांसद कैसरगंज बृज भूषण शरण सिंह द्वारा दिये गये सहयोग के लिए धन्यवाद ज्ञापित करते हुए खेल सप्ताह के सफल आयोजन के लिए जिला क्रीड़ा अधिकारी व उनकी टीम के प्रयासों को भी सराहा। जिलाधिकारी ने कहा कि देश की माटी से जुड़े कुश्ती के खेल को हर स्तर पर बढ़ावा दिये जाने का प्रयास किया जायेगा। 

जिलाधिकारी श्री सिंह ने कहा कि जनपद में कुश्ती के खेल को लोकप्रिय बनाने के लिए निकट भविष्य में कुश्ती खेल का भव्य आयोजन किया जायेगा। अन्तर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में सफलता प्राप्त करने के लिए जिलाधिकारी ने पहलवानों का आहवान्ह किया कि नियमित रियाज़ के साथ साथ कुश्ती की तकनीक तथा नियमों इत्यादि के बारे में भी अवश्य जानकारी प्राप्त करें। उन्होंने कहा कि कुश्ती का खेल हमें गुरू शिष्य परम्परा से जोड़ता है, इसलिए सभी पहलवानों को अपने गुरूओं का सम्मान करने के साथ साथ अपनी सेहत का भी ख्याल रखना चाहिए। 

श्री सिंह ने कहा कि किसी भी खेल में हार-जीत से ज्यादा स्वस्थ खेल भावना के साथ प्रतियोगिता में सम्मिलित होना मायने रखता है। इसलिए खेल सप्ताह में आयोजित हुए विभिन्न खेलों के विजेता, उप विजेता के साथ-साथ सभी प्रतिभागी खिलाड़ी बधाई के पात्र हैं। ऐसे खिलाड़ी जो इस प्रतियोगिता में जीत हासिल नहीं कर सके हैं, वह अपना मन छोटा न करें और इस हार से प्रेरणा लेकर भविष्य के लिए अभी से बेहतर तैयारी में जुट जायें। क्योंकि निरन्तर प्रयास करने वालों को सफलता अवश्य मिलती है।

इस अवसर पर नगर मजिस्ट्रेट प्रमिल कुमार सिंह, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डा. अमरकान्त सिंह, जिला हाकी संघ के सचिव महफूज़ अहमद, पहलवान जग्गा यादव, अंशकालिक प्रशिक्षक राकेश सिंह, जावेदुर्रहमान, डा. दानिश, शिवबाबू निषाद, जीवन रक्षक फिरोज़ अंसारी सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति एवं भारी संख्या में खेलप्रेमी मौजूद रहे। भारतीय मानवाधिकार एसोसिएशन, देवीपाटन मण्डल के सचिव सरजीत सिंह ने कार्यक्रम का संचालन किया। जबकि कार्यक्रम के अन्त में क्रीड़ा अधिकारी ए.आर. अन्सारी ने धन्यवाद ज्ञापित किया। 

Post A Comment: