विदेशी सरजमीं से अपने लड़के की डेड बॉडी मंगवाने की गुहार लगाता एक बाप
विनय कुमार मिश्र, गोरखपुर

जिस पुत्र को घर की आर्थिक स्थिति सुधारने के लिए विदेश भेजा था,अब उसी का मृत शरीर मंगाने के लिए पिता दर ब दर भटक रहा है।गोरखपुर के रहने वाले रामलखन निषाद के पुत्र अक्षय कुमार की, जो  18 माह पहले दुबई के अंसराज कम्पनी में कमाने के लिए गया था,उसकी दुबई की जेल में 2 दिसम्बर 2017 को मृत्यु हो गयी।लड़के के पिता रामलखन ने आज  प्रेसवार्ता करते हुए बताया कि अक्षय दुबई में जिस मकान में रहता था ,वहां आंध्र प्रदेश के 5 लोग और रहते थे जिनका नाम नरसईया,प्रसाद,लिगम आदि था। उन्होंने बताया कुछ दिन पहले उन लोगो का अक्षय से मार पीट हुआ उस दौरान उन लोगो ने अक्षय का सामान आदि लूट लिया।जिसकी सूचना दुबई पुलिस को लग गयी और पुलिस मार पीट कर रहे लोगों को जेल में बंद कर दिया।2 दिसंबर 2017 को जेल में ही अक्षय की मौत हो गयी जिसकी सूचना अक्षय की कंपनी के मालिक जिनका नाम सानी है उन्होने अक्षय के पिता को दी।सूचना मिलते ही अक्षय के पिता नेप्रसासन,प्रधानमंत्री,विदेश मंत्री, यूपी के मुख्यमंत्री तक से गुहार लगाई परन्तु अभी तक कोई कार्रवाई नही हुई।अक्षय के पिता का कहना है हमारे पास ना पासपोर्ट है और ना ही हमे पता है कैसे क्या करना है उन्होंने प्राथना करते हुए बोला बस कैसे भी मेरे पुत्र अक्षय का मृत शरीर घर आ जाये जिससे उसका अंतिम संस्कार किया जा सके।


गोरखपुर किडनैपर से मिलकर तीन लाख की फिरौती मांग रहे दो दरोगा अरेस्‍ट

किडनैपर से मिलकर किडनैप्‍प छात्र की रिहाई के लिए तीन लाख रुपए की फिरौती मांग रहे गोरखपुर में तैनात दो दरोगा अरेस्‍ट कर लिए गए हैं। दोनों दरोगा गोरखपुर के उरुवा थाने पर तैनात बताए जाते हैं।यह एक्‍शन सीधे एसएसपी के निर्देश पर हुआ। बिहार के गोपालगंज के एक कॉलेज में पढ़ने वाले लड़के को उसका दोस्‍त अफजल धोखे से गोरखपुर ले आया। यहां तैनात अपने परिचित दो दरोगाओं से उसने सम्‍पर्क किया और उन्‍हें अपनी साजिश में शामिल कर लिया। इसके बाद छात्र की रिहाई के नाम पर उसके परिवारीजनों से फिरौती मांगी जाने लगी।
बताते हैं कि परिवारीजनों के जरिए किसी तरह रविवार को यह बात गोरखपुर के एसपी ग्रामीण को पता लग गई। उन्‍होंने एसएसपी को बताया और उनकी हरी झंडी मिलने के बाद किडनैपिंग के आरोपी अफजल सहित दोनों दरोगाओं को अरेस्‍ट कर लिया गया। इस कार्रवाई से पुलिस महकमे में हड़कम्‍प मच गया है।

Post A Comment: