वैशाली से अभिषेक कुमार की रिपोर्ट :
बालू की वजह से बिहार में बवाल मचा हुआ है, आरजेडी ने बिहार बंद कराया, लेकिन हैरानी की बात ये है कि इस बंद की आड़ में बालू की तस्करी की जा रही थी. हांलाकि बालू से भरे ये ट्रक जाम में फंस गए, इसलिए तस्वीरें भी सामने आ गईं. हालांकि, बिहार में बालू के खनन पर अभी रोक है.बुधवार की शाम राज्य सरकार ने खनन की नई नीति वापस ले ली. आरजेडी को राज्य सरकार के फैसले पर संदेह है, लेकिन इस बीच बालू की अवैध तस्करी का कारोबार जारी है.मामला सोनपुर का है. आरजेडी के बंद के दौरान सैकड़ों गाड़ि‍यां फंसी हुई थीं और उसी बीच में फंसी थी बालू की ट्रक. इस बालू को लेकर पूरे बिहार में हाहाकार मचा हुआ है. आरजेडी के नेता सड़कों पर गरीबों की लड़ाई रहे हैं, उसी बीच ये गाड़ि‍यां भी अपनी-अपनी जगह पर पहुंचने की कोशिश कर रही थीं. जाहिर है कि यह मामला तस्करी का है और बंद की आड़ में बालू का न सिर्फ अवैध खनन किया गया, बल्कि उसकी तस्करी कर ऊंचे दामों में उसे बेचने के लिए उसे जगह पर पहुंचाया जा रहा हैं. बालू के भरे ट्रक के जाम में फंसने के बाद उस के ड्राईवर औऱ सहयोगी सभी नदारद थे.जाम में फंसे इस ट्रक को सभी देखकर रहे हैं, आम लोगों के साथ-साथ पुलिस के अधिकारी भी, लेकिन कोई कुछ कार्रवाई नही कर रहा है. सोनपुर के एसडीपीओ पंकज शर्मा से जब इस बारे में पूछा गया, तो उन्होंने चलते-चलते बताया कि कुछ बालू भरे ट्रक जाम में फंसे हैं, देख लेते हैं, सत्यापित कर लेते हैं और निकल लिए|

Post A Comment: