समस्तीपुर से ब्रजेश /पंकज  की रिपोर्ट :- जिले के उजियारपुर में राशन कार्ड का आवेदन देने के लिए प्रखंड मुख्यालय आयी एक महिला के चार महीने के बच्चे की मौत हो गयी।इस घटना से आक्रोशित लोगों ने प्रखंड कार्यालय में जमकर किया हो हंगामा। इस दौरान लोगों ने उजियारपुर बीडीओ का घेराव भी किया।काफी मसक्कत के बाद  किसी तरह लोगों को समझा कर वार्ता के लिए मनाया गया। उसके बाद जा कर हंगामा शांत हुआ।सूत्रों के अनुसार, प्रखंड के महिसारी गांव निवासी सुजीत कुमार राय की पत्नी प्रियंका अपने चार वर्षीय पुत्र कीर्ति सुमन को गोद में लेकर राशन कार्ड में नाम जोड़ने का आवेदन देने आरटीपीएस केंद्र आयी थी।आरटीपीएस पर रोज लग रहे भीड़ को लेकर इतना अधिक ठंड व कुहासे के बावजूद वह सात बजे ही प्रखंड मुख्यालय पहुंच गयी थी। बताया गया है कि करीब 11 बजे दिन में उसके बच्चे की तबीयत आचानक बिगड़ने लगी।प्रखंड मुख्यालय पर मौजूद लोग ठंड लगने की चर्चा कर रहे थे। इस पर वहां मौजूद लोगों ने आनन-फानन में महिला व उसके बच्चे को स्थानीय पीएचसी में ले गया। ग्रामीणों के मुतबिक पीएचसी पहुंचने के बाद डॉक्टर उसका इलाज शुरू करने ही वाले थे, उसके पहले ही बच्चे ने दम तोड़ दिया। इसके बाद बच्चे की माँ प्रियंका के रोने एवं चीत्कार से पीएचसी गूंजने लगा।इधर, बच्चे की मौत होने की अन्य ग्रामीणों को जैसे ही जानकारी मिली सभी आक्रोशित हो हंगामा करने लगे। उन्होंने प्रखंड कार्यालय में घुस कर नाराजगी जताने के साथ ही बीडीओ का घेराव कर दिया। ग्रामीण बच्चे की मां को मुआवजा देने की मांग कर रहे थे। काफी मशक्कत के बाद बीडीओ व सीओ ने लोगों को समझा-बुझा कर शांत किया। इसके बाद आपस मे बात चीत हुई। इसमें प्रमुख रिंकी कुमारी, उप प्रमुख लालबाबू साह व पंसस रामभरोस राय व अनिल कुंवर की उपस्थिति में बीडीओ ने शव का पोस्टमार्टम कराने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मुआवजे के लिए प्रस्ताव भेजा जाएगा। सीओ संतोष कुमार ने बताया कि महिला सुबह सात बजे ही लाइन में लगने के लिए आ गयी थी। तबीयत बिगड़ने से बच्चे की मौत हो गई। पीएचसी प्रभारी डॉ. आरके सिंह ने बताया कि अस्पताल आने से पहले ही बच्चे की मौत हो चुकी थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मामले के सच्चाई का पता चलेगा।इस मामले में थानाध्यक्ष मनोज कुमार सिंह
ने बताया कि मामले में यूडी केस दर्ज कर पोस्टमार्टम के लिए शव भेज दिया गया है।अभी तो इस मामले में कुछ कहा नहीं जा सकता हैं।

Post A Comment: