फलका (कटिहार )से मो० राजिक खान की रिपोर्ट :

आम आदमी के रसोई से गायब हुआ प्याज

आज कल रूला रहा है प्याज का मुल्य रसोई से अगर प्याज गायब हो जाए तो खाने का जायका ही बदमजा हो जाता है लेकिन इधर कुछ दिनों से प्याज के मुल्यों ने आसमान की उॅचाई छू ली है जिस से गरीब मजदूर और मध्यमवर्गीय लोगों को प्याज खरीदना काफी महंगा साबित हो रहा 10से15रूपये किलो बिकने वाला प्याज आजकल 60से70रूपये किलो बिक रहा है प्याज के खुदरा व्यापारी से पूछने पर वह कहते हैं कि हमलोग क्या कर सकते हैं इस इलाके में प्याज की खेती ना के बराबर होती है दूसरी जगह से आमद कम   हो रही है कुल मिलाकर ऐसा लगता है कि गरीबों की रसोई को अब नही भाएगा प्याज का स्वाद|

Post A Comment: