समस्तीपुर :प्रधान मंत्री  नरेंद्र मोदी  की पहल और वर्तमान केंद्र सरकार के निर्णयानुसार 'रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया' द्वारा 'भारतीय डाक' को 'इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक' के रूप में कार्य करने हेतु लाइसेंस स्वीकृत किया जा चुका है-- ये बातें आज प्रधान डाकघर पर आयोजित 'भारतीय डाक आपकी सेवा में ' का
र्यक्रम के संचालक जनसम्पर्क निरीक्षक शैलेश कुमार सिंह ने कहा। उन्होंने बताया कि प्रयोगात्मक आधार पर झारखण्ड के रांची और छत्तीसगढ़ के रायपुर से इसकी शुरुआत दिनांक-01मार्च '  2017 से की जा चुकी है,अब जल्द ही समस्तीपुर डाक प्रमंडल अंतर्गत प्रधान डाकघर परिसर में इसकी स्थापना हेतु निर्माण का कार्य प्रारंभ हो चुका है और जल्द ही इसका संचालन शुरू हो जानेवाली है।
श्री सिंह ने बताया कि 01 अप्रैल 2017 से सभी बैंकों ने अपनी ग्राहक सेवा -शर्तों में ब्यापक परिवर्तन करते हुए बैंकों के खातों से लेन-देन और एटीएम से निकासी पर शुल्क और मासिक -सीमा निर्धारित कर अपने ग्राहकों पर अतिरिक्त-भार लाद दिया है ,वही डाकघरों के खातों और एटीएम पर ग्राहकों को ना तो इस आशय का शुल्क लगता है और ना ही कोई लेन-देन के लिए मासिक-सीमा निर्धारित है। उन्होंने बताया कि बैंकों में लगने वाले एसएमएस चार्ज, ए टी एम चार्ज तथा खातों या एटीएम के माध्यम से की जानी वाली निकासी की न तो सीमा निर्धारित है और ना ही कोई शुल्क देना होता है।देश की अधिसंख्य-आबादी जो गाँवों में रहती है, उन तक आज भी बैंकों की वनिष्पत डाकघरों की पहुंच कई गुणा ज्यादा है, तथा अपने 'स्वर्णिम-इतिहास' और लगभग एक लाख पचपन हज़ार डाकघरों के विशालतम नेटवर्क की बदौलत लोगों के बीच बेहतरीन साख स्थापित करने में हम कामयाब हुए हैं। उन्होंने आगे बताया कि ये हमारे लिए गौरव की बात है कि विश्व की सबसे बड़ी डाक-ब्यवस्था से हम जुड़े हैं, जिसके नाम बहुत से कीर्तिमान स्थापित हैं। उन्होंने बताया कि भारतीय डाकघर की शाखाएँ एक ओर जहां देश के तमाम गांव, शहर, महानगर तथा राज्यों में है तो दूसरी ओर जल में भी डाक-सेवा उपलब्ध कराने हेतु 'कश्मीर के डल-झील' में 'फ्लोटिंग पोस्ट-ऑफिस' (तैरता-डाकघर) तथा हिमाचल प्रदेश के  'हिक्किम' में विश्व की सबसे ऊँचाई पर डाकघर स्थापित है।उन्होंने कार्यक्रम में उपस्थित तमाम लोगों से डाकघरों की योजनाओं का ज्यादा से ज्यादा लाभ लेने की अपील की तथा बैंकों और डाकघरों के द्वारा अपने ग्राहकों को दिए जानेवाले लाभ और सुविधाओं का एक तुलनात्मक ब्यौरा प्रस्तुत किया

Post A Comment: