पानीपत(सुनील वर्मा): आज 14 बाजारों के प्रधानों ने एकत्रित होकर संयुक्त व्यापार मंडल के प्रधान अनिल मदान के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए नया प्रधान बनाने तक की घोषणा तक कर दी। पत्रकार वार्ता के दौरान सुनील अरोडा, राजेश सूरी, सुनील वर्मा, संजय वर्मा, मुलख राज मक्कड, जीत सिंह, योगेश, इन्द्र जीत कथूरिया, कविराज, निंशात सोनी, राजीव सोनी, लक्की मेहता आदि 14 बाजारों के प्रधानों में से सुनील अरोडा ने बताया कि संयुक्त बाजार के पिछले करीब 8 माह बनाए गए प्रधान अनिल मदान किसी भी गतिविधि में शामिल नही हो रहे। आए दिन बाजारों में चोरियों की वारदात होने के बावजूद कोई भी कार्रवाही न करने के कारण बाजारों के प्रधानों में रोष है। वहीं सुरेश बवेजा ने बताया कि बाजार के प्रधान पहले से ही पदाधिकारी हैं परन्तु अनिल मदान ने सभी 32 बाजारों के प्रधानों को कार्यकारिणी में शामिल कर रखा है, जोकि गल्त है। वहीं राजेश सूरी ने बताया कि सुयंक्त व्यापार मंडल किसी भी राजनीति से कोई सम्बंध नही है। हमारी कोशिश रहेगी कि व्यापार मंडल के सदस्य बढाकर एक माला में पिरोया जाए। व्यापार मंडल के प्रधान सहित कार्यकारिणी के सदस्य बाजारों के प्रधानों की समस्याओं की ओर ध्यान नही दे रहे हैं। चोरियों के बढने के बावजूद किसी भी अधिकारी से न मिलकर कार्रवाही की मांग नही की गई न ही किसी जन प्रतिनिधि को मिलकर प्रशासन से कार्रवाही करवाने का दबाव नही दिया गया। बाजारों में सुरक्षा व सफाई की कोई जिम्मेवारी लेने वाला है। इसलिए जल्द ही नई कार्यकारिणी का गठन किया जा सकता है।
वहीं दूसरी ओर संयुक्त व्यापार मंडल के चेयरमेन दर्शन वधवा का ब्यान उनकी कोशिश रहेगी कि 14 प्रधानों के साथ साथ अनिल मदान को एकत्रित करके एक साथ रखने का प्रयास करेंगे।

Post A Comment: