विकास समीक्षा यात्रा: CM नीतीश का वादा-अगले चार साल में हर गांव पक्की गली-नाली🚰


मोतिहारी / सुजीत कुमार चंद्रवंशी 


 मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि अगले चार साल में हर गांव में पक्की सड़क और नाली होगी। हर घर में नल का जल पहुंचेगा और बिजली लगेगी। गांवों के विकास में किसी भी स्तर पर कोई कमी नहीं रहेगी।

उन्होंने कहा कि वार्ड सदस्य और मुखिया के बीच विवाद के कारण विकास प्रभावित था। अब विवाद समाप्त हो गया है। जल्द ही सभी वार्डों का विकास समान रूप से होगा।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बुधवार को पूर्वी चंपारण के तुरकौलिया प्रखंड के सेमरा टोला परशुरामपुर में विकास का हाल जानने के बाद गांव के स्टेडियम में जीविका दीदी को संबोधित कर रहे थे। 

मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार विकास कार्यों की 'समीक्षा यात्रा' के पहले  चरण के दूसरे दिन जिला पूर्वी चंपारण प्रखंड चकिया पंचायत महुआंवा के ग्राम बलवा का भ्रमण कर सात निश्चय व अन्य सरकारी योजनाओं के तहत चल रही विकासात्मक कार्यों का जायजा लिया।

जनसभा स्थल पर बने हेलीपैड से बलवा ग्राम पहुंचने पर ग्रामवासियों ने मुख्यमंत्री को माला पहनाकर और ताली बजाकर गर्मजोशी से स्वागत किया। बलवा गांव भ्रमण के क्रम में सबसे पहले मुख्यमंत्री सामुदायिक भवन के समक्ष पौधारोपण किया।

उसके बाद मुख्यमंत्री सात निश्चय योजना के अंतर्गत बलवा गाँव के वार्ड संख्या 9 में 1067482 रुपया की लागत से नाली निर्माण,1097700 की लागत से गली निर्माण, 974574 रुपये की लागत से गली निर्माण की योजनाओं का मुख्यमंत्री ने शिलापट्ट का अनावरण कर उद्घाटन किया।

उसके बाद मनरेगा के तहत बलवा गांव के वार्ड संख्या 10 में आंगनबाड़ी भवन केन्द्र निर्माण का भी मुख्यमंत्री ने शिलापट्ट का अनावरण कर शिलान्यास किया। बलवा गांव भ्रमण के दौरान ग्रामवासियों से मुलाकात कर मुख्यमंत्री ने विकास कार्यों की पूरी जानकारी ली।

ग्रामीणों से मुलाकात के क्रम में सबसे पहले मुख्यमंत्री ने ग्रामवासी दरोगा पाण्डेय, रामरती देवी से मुलाकात की, जिनसे 2009 के विकास यात्रा के क्रम में भी मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने गंव की समस्याओं से रूबरू हुए थे।

वहीं बलवा गांव की मुखिया श्रीमती सुमित्रा देवी, किसुन सहनी, गगन देव राम जैसे अन्य कई ग्रामीणों से मुख्यमंत्री ने मुलाकात कर गांव की स्थिति से पूरी तरह अवगत हुए।

बलवा गांव भ्रमण के बाद मुख्यमंत्री ने जनसभा स्थल पर बने मंच से पुस्तिका विमोचन के बाद रिमोट के जरिये 296 करोड़ रुपये की लागत वाली योजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन किया।

बता दें कि सीएम अपनी विकास समीक्षा यात्रा के तहत पूर्वी चंपारण के दौरे पर हैं। तुरकौलिया प्रखंड के सेमरा टोला परशुरामपुर में ग्रामीणों से विकास की जानकारी लेने के बाद चकिया के बलवा गांव में वहां के लोगों का हाल जानने पहुंचे हैं।

इन दोनों गांवों में मुख्यमंत्री जनवरी 2009 में अपनी विकास यात्रा के तहत पहुंचे थे और कई योजनाओं का शिलान्यास किया था। इस बार वे सभी योजनाओं की ताजा स्थिति देख रहे हैं।

Post A Comment: