सुलतानपुर 
 जिलाधिकारी हरेन्द्र वीर सिंह ने सभी उपजिलाधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि 11 जनवरी को श्रावस्ती माॅडल पर भूमि विवाद से सम्बन्धित प्रकरणों के निस्तारण हेतु राजस्व व पुलिस की संयुक्त टीमें एक साथ प्रातः 10.00 बजे थानों से रवाना करें। टीमों की रवानगी जी.डी. में दर्ज की जाय तथा वापसी पर भी जी.डी. में दर्ज होगी। उन्होंने कहा कि लेखपालों का यह दायित्व होगा कि वे अपने से सम्बन्धित गांवों के लोगो को जानकारी दें कि वे भूमि विवाद से सम्बन्धित प्रकरणों के निस्तारण में अपना सहयोग देकर अपने प्रकरण का निस्तारण करायें। 
जिलाधिकारी ने बताया कि 11 जनवरी को थाना कोतवाली नगर के छावनी सदर, कोतवाली देहात के बालमपुर, सलाहपुर, लहिया जलपापुर, चाचपारा, बैजापुर, थाना लम्भुआ के लोटिया, शिवगढ़, बेदूपारा, शंकरपुर, थाना चांदा के गलहिता, बैतीकलां, सेमरीकलां, साढ़ापुर, थाना कूरेभार के श्रीरामपुर, मझौवा, मझवारा, थाना मोतिगपुर के छेदुवारी, डीगुंरपुर बनकेगांव, थाना दोस्तपुर के ताजुद्दीनपुर, भरथुआ, गोसाईगंज थाना के फरीदीपुर, थाना करौंदीकलां के गोपालपुर सराय ख्वाजा, उधरनपुर, थाना अखण्डनगर के पतारखास, अलीपुर कांपा, थाना कादीपुर के गोपालपुर नमाजगढ़, पहाड़पुर श्रीरामपुर, थाना बल्दीराय के अशरफपुर, भखरी, थाना कुड़वार के सरैयापूरे विसेन, बेला पश्चिम, थाना धम्मौर के बनकेपुर, हुसेपुर सरैया , थाना हलियापुर के काकरकोला तथा थाना पीपरपुर के  संसारीपुर, दिलावलपुर में इस प्रकार कुल 40 चिन्हित गांवों में संयुक्त टीमें जायेंगी तथा भूमि विवाद के प्रकरणों का गुणवत्तापूर्ण निस्तारण करेंगी। उन्होंने उपजिलाधिकारियों को निर्देशित किया कि टीम वापसी पर निस्तारित प्रकरणों की फीडिंग की जाय तथा टीमों से प्रमाणपत्र प्राप्त किया कि गांव भूमि विवाद रहित हो गया है। 

Post A Comment: