पी न्यूज़ डेक्स

बिहार में अबकी बार इंटर-मैट्रिक की परीक्षा के लिए बहुत बदलाव किए जा रहे है। इस साल परीक्षाओं के लिए कुल 38 बार कोडिंग केंद्र बनाए जाएंगे।सभी बार कोडिंग केंद्र पर सीसीटीवी कैमरे लगे होंगे। गड़बड़ी करने वाले बार कोडिंग कर्मी पर तुरंत कार्रवाई भी होगी। इस बार मैट्रिक में 2 करोड़ 10 लाख कॉपियों पर बार कोडिंग होगी।
हर बार कोडिंग केंद्र पर 500- 500 कर्मी होंगे। परीक्षा खत्म होने के दूसरे दिन ही उत्तर पुस्तिका की बार कोडिंग कर लेनी है। बिहार बोर्ड चेयरमैन आनंद किशोर ने सीक्रेसी ऑफिसर की बैठक में इसकी सूचना दीए।बोर्ड के चेयरमैन ने बताया कि ओएमआर शीट बाएं और दाएं भाग में होगा। बीच वाला हिस्सा मार्किंग के लिए होगा।बता दें कि बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने इसी साल से इंटर और मैट्रिक के परीक्षा पैटर्न में बदलाव किया है। बदले हुए पैटर्न पर ही मैट्रिक परीक्षा ओएमआर शीट पर ली जा रही है। वहीं इंटर आर्ट्स में भी ओएमआर लागू होगा। वैसे इंटर साइंस और कॉमर्स में 2009 से ही ओएमआर लागू है। मैट्रिक में 100 अंक वाले  थयोरी पेपर में 40 अंक के ओएमआर पर वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जायेंगे।आगे भी कुछ नियमों में बदलाव हो सकता हैं।

Post A Comment: