सीआइए पुलिस टीम को लूटने के प्रयास के आरोपी आसन कलां के अमित, अंकित, और प्रदीप को एक दिन के पुलिस रिमांड के बाद अदालत में पेश किया गया, जहां से अमित को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। जबकि अंकित व प्रदीप को तीन दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है, इससे पहले पुलिस ने एक दिन के रिमांड के दौरान लुटेरों की निशानदेही पर लूट की चार बाइक, चार मोबाइल फोन बरामद किए।
गत सोमवार की रात को सीआइए की टीम को सूचना मिली कि पांच हथियारबंद बदमाश गढ़ी सिकंदरपुर के पास राहगीरों को लूटने के प्रयास में हैं। तभी सीआइए के हवलदार अनिल, रणदीप, व सिपाही हबीब, सिपाही संदीप, मॉडल टाउन के एएसआइ सुभाष चंद और गाड़ी चालक सिपाही हसंराज गढ़ी सिकंदरपुर के पास पहुंचे। तभी आसन कलां गांव के अमित, प्रदीप, गौरव, अंकित, और भारत नगर के अजय ने गाड़ी चालक हसंराज की कनपटी पर देसी बंदूक तानकर लूटने की कोशिश की। पुलिस ने उक्त आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। आरोप गौरव और अजय को जेल भेज दिया गया था।

ये वारदात कुबूली गई:-

-24 नवंबर को हरिसिंह कालोनी के अनिल की सब्जी मंडी से बाइक चुरा ली गई.

-24 दिसंबर 2017 की रात को अंकित, प्रदीप और अमित ने गंगाराम कालोनी के राहुल से काबड़ी रोड मुकेश ढ़ाबा के पास डंडों से पिटाई कर बाइक व चांदी की चैन लूट ली थी।

-31 दिसंबर को जिमखाना क्लब के पास से न्यू मॉडल टाउन के नितिन की बाइक लूट ली गई।
Attachments area

Post A Comment: