अमित कुमार यादव नई दिल्ली से रिपोटिंग

दिल्ली के महिपालपुर में गाड़ियों के मेटल स्क्रैप से 35 फूट ऊंची एक मीनार तैयार की गई जिसे कुतुब मीनार की तर्ज पर बनाया गया है. सैर-सपाटे पर निकले लोगों ने कई साल पुरानी महरौली की क़ुतुब मीनार जाने की बजाय इस पार्क में बनी मीनार जाना पसंद कर रहें है.
महिपालपुर के इस पार्क में सुबह से लेकर शाम तक यहां आने वाले लोगों की भीड़ होती है. हर कोई इस क़ुतुब मीनार को देखना चाहता है. फ़िलहाल ये पार्क एक पर्यटन स्थल की तरह बन गया है
दरअसल दिल्ली वालों को ये सौग़ात दक्षिणी नगर निगम ने दी है. हाल ही में दिल्ली के उप राज्यपाल अनिल बैजल और सांसद रमेश बिधूड़ी ने इस क़ुतुब मीनार का उद्घाटन किया. इस क़ुतुब मीनार की ख़ास बात ये है कि इसे गाड़ियों के मेटल स्क्रैप यानी जिन गाड़ियों का कोई इस्तेमाल नहीं हो रहा है जो गाड़ियां सिर्फ़ जगह घेर रहीं है उन गाड़ियों के मेटल से इसे बनाया गया है. इसका वज़न क़रीब एक टन है. वहीं इसे बनाने में साउथ एमसीडी के 16 लाख रूपए ख़र्च हुए हैं.
लाल क़िले की भी झलक
इस क़ुतुब मीनार में पूरी दिल्ली की ख़ास इमारतों की झलक भी देखने को मिलती है. लोटस टेंपल और लाल क़िले की झलक भी इसी मीनार पर देखी जा सकती है. वहीं इस पार्क को बनाने में भी दक्षिणी एमसीडी ने 2 करोड़ रूपए का बजट पारित किया है. महिपालपुर के लोग इस पार्क को एमसीडी की सौग़ात के रूप में ले रहे हैं. यहां तक कि लोगों के लिए महिपालपुर में बनी क़ुतुब मीनार असली क़ुतुब मीनार से भी ज़्यादा महत्वपूर्ण हो गई है.

Post A Comment: