चीफ एडिटर कृष्ण कुमार संजय :
अत्यधिक् ठण्ड तथा शीत लहर बने रहेंगे,न्यूनतम तापमान तीन से पांच डिग्री सेल्सियस गिरावट की सम्भावना 

 


डॉ राजेन्द्र प्रसाद केन्द्रीय कृषि विश्व विद्यालय पूसा ,समस्तीपुर के मौसम विज्ञान के नोडल पदाधिकारी डॉ ए सतार के आकलन के अनुसार 6जनवरी से 10जनवरी 2018 तक पूर्वानुमान :-
उतर बिहार के जिलों में अगले दो तीन दिनों तक शीत दिन की स्थिति बन सकती है ,हलांकि इस अवधि में दिन के तापमान में हल्का सुधार हो सकता है |अगले दो तीन दिनों तक सुबह में मध्यम से घना कुहासा छा सकता है |न्यूनतम तापमान के सामान्य से 3से 5डीग्री सेल्सियस गिरावट होने की सम्भावना है |जिसके चलते अत्यधिक् ठण्ड तथा शीत लहर बने रहने का अनुमान है |न्यूनतम तापमान के अधिक गिरावट होने की सम्भावना के कारन खेतों में पाला का असर हो सकता है \इस अवधि में अधिकतम तापमान के 15 से 18 डिग्री सेल्सियस तथा न्यूनतम तापमान 3से 5डिग्री सेल्सियस के बिच रहने का अनुमान है |
औसतन 5से 7किलो मीटर प्रति घंटा की रफ़्तार से पछिया हवा चलने की सम्भावना है |
सापेक्ष आद्रता सुबह में करीब 90से 95प्रतिशत तथा दोपहर में 55से 65प्रतिशत रहने का अनुमान है |

                                समसामयिक सुझाव 

आम लीची के बाग़ में सिंचाई तथा कर्षण क्रिया नही करें ,ऐसा करने से पेड़ो में पुष्पण की क्रिया प्रभावित होगी |
फूलों वाली फसलों में नमी बनाये रखे तथा रिड़ेमिल नामक दवा का 1.5ग्राम प्रति लिटर पानी में घोल बनाकर 10से 15दिनों के अंतर पर छिर्काव करने से पौधा को पाले के प्रकोप से बचाया जा सकता है |
कम तापमान को ध्यान में रखते हुए आलू ,गेंहू ,मक्का ,पपीता ,केला एवं सब्जियों वाली फसलों को कम तापमान से बचाव हेतु खेतों में उपयुक्त नमी बनाये रखे |
आलू टमाटर के झुलसा रोग की नियमित रूप से निगरानी करें ,झुलसा रोग का प्रकोप फसल में दिखने पर इसके बचाव हेतु डायथेन एम 45,1.5ग्राम या रिडोमिल नामक दवा का 1.5ग्राम प्रति लिटर पानी की दर से घोल बनाकर छिरकाव करें |आवश्यकता नुसार 10से 15दिनों के अन्तराल सिंचाई करे |
बिलम्ब से बोयी गयी गेंहू की फसल को 21से 25दिनों की हो गयी हों उसमे सिंचाई कर 30किलो नत्रजन प्रति हेक्टेयर की दर से उप्रिवेसं करे|यदि 40से 45दिनों की हो गयी हो तो उसमे दुसरी सिंचाई कर 30 किलो ग्राम नेत्रजन का प्रति हेक्टेयर की दर से उप्निवेसन करें |
गेंहू में यदि दीमक का प्रकोप दिखायी दे तो बचाव हेतु क्लोरोपय्रीफार्न 20ई0सी ०दो लिटर प्रति एकर 20से 25किलो ग्राम बालू में मिलाकर खेत में शाम को छिर्काव कर सिंचाई करें |
प्याज का पौधा 50से 55दिनों का हो गया है क्यारी में पंक्ति की दूरी 15सेंटी मि० पौधों से पौधा की दूरी 10से० मी ० पर रोपाई करे |रोपाई के 10से 15दिनों पूर्व 15से 20टनगोबर की खाद डालें अंतिम जुताई में 60किलो ग्राम नेत्रजन 80किलो फास्फोरस ,80किलो पोटास तथा 40किलो सल्फर प्रति हेक्टेयर दें |
आज का अधिकतम तापमान 17डिग्री सेल्सियस सामान्य 4.9 डिग्री सेल्सियस |तथा न्यूनतम तापमान 5.8डिग्री सेल्सियस सामान्य 28डिग्री सेल्सियस कम रहा 

Post A Comment: