सूरज कुमार (उन्नाव ब्यूरो) की खास रिपोर्ट।
मेक इन इंडिया का सपना  गर्त में जाता नजर आ रहा है ।  जी हाँ जनपद उन्नाव के ब्लॉक सिकंदर पुर कर्ण की ग्रामसभा बैदरा में बिजली विभाग ने 14 साल पहले पूरी ग्राम सभा में बिजली के खंभे लगा दिए थे। लेकिन आज तक उस पर तार नही बिछाया जा सका है। जिससे पूरी बैदरा ग्राम सभा अंधेरे में रहती है। सवाल ये उठता है कि गांव के सभी स्कूली बच्चों का भी भविष्य अंधेरे में है। जहाँ सरकार गांव - गांव  बिजली और घर - घर  शिक्षा के वायदे  करती है। वही एक ओर ये आलम है कि 14 वर्षो से लोग सिर्फ बिजली की राह देख रहे। लेकिन उन्हें निराशा के अलावा कुछ हाथ नही लगा। गांव के कई जागरूक लोगों ने कई बार बिजली घरों में जाकर प्रार्थना पत्र  दिए । लेकिन सिर्फ निराशा ही मिली। अब गांव के सभी लोगो ने बिजली का खयाल ही अपने दिल से निकाल दिया है। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्रामीणों ने कई खंभो पर विभागीय अधिकारियों से तार बिछाने की मांग की  लेकिन हर बार की तरह इस बार भी असफलता ही हाथ लगी।
विकास खंड सिकंदर पुर कर्ण की ग्राम सभा बैदरा घनी आबादी वाला इलाका है। इस ग्राम सभा लगभग 14 वर्ष पहले  बिजली की सुविधा मुहैया कराने के लिए  बिजली के खंभे लगवाए गए थे। खंभे लगने के बाद काम ठप हो गया। 14 साल का समय गुजरने के बाद भी यहाँ खंभो पर तार नही बिछाया गया। गांव के मनोज कुमार, शिवराम, गोसांईदीन, रितेश कुमार,गोवर्धन लाल,मेवालाल, कृपाशंकर, छेदीलाल, विनोद कुमार, संदीप,रामखेलावन, देवीचरन व अवधेश सहित कई ग्रामवासियों खम्भों पर तार बिछाने  की  अपील की है
Attachments area

Post A Comment: