शिवहर जनक  स्व०  रघुनाथ झा को श्रद्धांजलि देने पहुंचे सीएम नीतीश कुमार

दिलीप कुमार पांडेय /शिवहर 

शिवहर---पूर्व केंद्रीय मंत्री स्व० रघुनाथ झा के पैतृक आवास पिपराढी के अम्बा कला मे बिहार के माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी उनके घर जाकर श्रदांजली दी । 
 मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने  शोक संवेदना व्यक्त करते हुए पीडीत परिवार को  संत्वना देते हुए कहा है कि स्वर्गीय झां के निधन से बिहार में जबरदस्त राजनीतिक क्षेत्र में क्षति हुई है।
मुख्यमंत्री ने बताया कि स्वर्गीय झा के अथक प्रयास से जिला शिवहर बना था उनके सपने को साकार किया जाएगा।
स्वर्गीय रघुनाथ झा का प्रतीमा  समाहरणालय में  लगाने का मुख्यमंत्री ने आश्वासन दिया है।
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बताया है कि स्वर्गीय झा के साथ जनता का जबरदस्त लगाव था ऐसे महान नेता को श्रद्धांजलि देने हम आए हैं।
समता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष के साथ-साथ  विभिन्न राजनितीक पार्टियों में रहने के बावजूद भी हमारा लगाव रहा तथा  राजनितीक जीवन  मे बेदाग रहने वाले पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुनाथ झा बिहार में कई मंत्री पद को  सुशोभित कर जीवन सफर कर  इस सांसारिक जीवन से चले गए।
मुख्यमंत्री शिवहर बागमती कार्यालय परिसर में हेलीपैड से सीधे उनके घर पहुंचकर स्वर्गीय रघुनाथ झा के फोटो युक्त प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी तथा उनके पुत्र पूर्व विधायक अजीत कुमार झा को मिलकर संत्वना भी दी है ।
मौके पर पूर्व विधान पार्षद देवेश चंद्र ठाकुर, स्थानीय सांसद रामा देवी ,सीतामढ़ी के सांसद शिवहर विधायक मोहम्मद सरफुद्दीन, बेलसंड विधायक प्रतिनिधि राणा रणधीर सिंह चौहान सहित कई राजनेताओं ने श्रद्धांजलि अर्पित की है
मुख्यमंत्री को आगमन को लेकर जदयू जिलाध्यक्ष राम एकवाल राय क्रांति, भाजपा जिला अध्यक्ष संजीव कुमार पांडे, लोजपा जिलाध्यक्ष विजय कुमार पांडे, जदयू वरीय नेता दिग्विजय सिंह ,नगर अध्यक्ष अंशुमान नंदन सिंह ,जिला परिषद अध्यक्ष नीलम देवी प्रतिनिधि मनोज कुमार सिंह ,सहित हजारों जनप्रतिनिधि एवं पार्टी एवं स्वर्गीय रघुनाथ झा के शुभचिंतक पहुंचकर इस शोक सभा में शामिल हुए।

मुख्यमंत्री के आगमन को लेकर जिला पदाधिकारी राजकुमार पुलिस अधीक्षक प्रकाश नाथ मिश्रा अनुमंडल पदाधिकारी मोहम्मद आफाक अहमद उप विकास आयुक्त मोहम्मद वारिस खान एसडीपीओ प्रीतीश कुमार जिले के सभी थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर वरीय पदाधिकारी गण सुबह से ही उनकी आगवानी एवं सुरक्षा की दृष्टि से लगे हुए थे।

Post A Comment: