नाइंसाफ़ी से निराश’ होकर अनशन पर बैठे अमेठी के पत्रकार विधायक और समाजसेवी भी धरने में हुए शामिल
अरुण साहू के साथ अनिल निषाद की रिपोर्ट 

पत्रकारों के इस क्रमिक अनशन में गौरीगंज से सपा विधायक राकेश प्रताप सिंह धरने में शामिल हुए वही जनपद के तमाम समाजसेवी भी इस धरने के समर्थन में उतर आए है।
एसओ को बर्खास्त कर सीबीआई जांच की मांग
इस मामले में एसओ गौरीगंज द्वारा हीलाहवाली किए जाने को लेकर मृतक छात्र अभय सिंह के परिजन राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री के साथ ही मानवाधिकार आयोग व जिलाधिकारी अमेठी को पत्र भेजा है। इसमें उन्होंने एसओ की कार्यशैली पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने एसओ को निलंबित करने के साथ ही मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग रखी है।
समाज का आईना, मजबूर और शोषितों की आवाज़, लोकतन्त्र के चौथे स्तंभ ऐसे तमाम नामों से मीडिया व मीडियाकर्मियों को नवाजा जाता है। लेकिन आज अमेठी में ही एक पत्रकार के साथ हो रही नाइंसाफी के कारण जिले समस्त मीडियाकर्मी कलेक्ट्रेट के क्रमिक अनशन पर बैठने को मजबूर हो गए है।
इस क्रमिक अनशन में अध्यक्ष शीतला मिश्रा, तारकेश्वर मिश्र, दिनकर श्रीवास्तव, नीरज श्रीवास्तव, अरविंद श्रीवास्तव, सन्तोष श्रीवास्तव, दर्शन साहू, अरविन्द सिंह राजा भैया, रविन्दर तिवारी, दिगविजय सिंह, अजय पाठक, पवन तिवारी, अजय मिश्रा , राजेश मिश्रा, सुशील तिवारी, निसांत सिंह, सहित जिले के समस्त इलेक्ट्रॉनिक और प्रिंट मीडिया के प्रतिनिधियों ने अपना अनशन जारी रखा है।

Post A Comment: