गोरखपुर से विनय कुमार मिश्र 

            प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ औऱ राज्यपाल रामनाईक गोरखनाथ मंदिर में आयोजित गुरू गोरखनाथ कालेज आफ नर्सिंग के सेवा-शपथ ग्रहण समारोह में शिरकत करने गोरखपुर पहुंचे।इस दौरान गोरक्षनाथ मंदिर में दिग्विजय नाथ स्मृति सभागार में हो रहे कार्यक्रम में सीएम ने स्मृति चिन्ह और उत्तरी देकर राज्यपाल का स्वागत किया।गुरु गोरक्षनाथ नर्सिंग कॉलेज की छात्राएं दीप प्रज्वलित कर सीएम और राज्यपाल का स्वागत की।इस दौरान राज्यपाल ने ई चिकित्सालय का शुभारंभ किया।सीएम योगी ने अपने संबोधन में कहा कि राज्यपाल रामनाईक की अनुकंपा से 2016- 2017 से ये नर्सिंग कॉलेज बना है।महिला सशक्तिकरण सिर्फ कागजों तक न सीमित रह जाये इसलिए इस कॉलेज का शुरुआत किया गया।सीएम ने कहा कि उत्तर भारत में नर्सिग का आभाव रहा है इस लिए विश्वविद्यालय में नियमावली के कारण नर्सिंग कॉलेज अधर में रहा।राज्यपाल की रुचि से ये नर्सिगं कॉलेज विश्वविद्यालय का पहला नर्सिंग कॉलेज बना।बीते दिनों राज्य़पाल के नाईक मौसम के खराब होने के कारण गोरखपुर नहीं आ सके थे लेकिन मौसम सही होने पर आज कार्यक्रम में शिरकत किये। सीएम ने छात्रों का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि नर्सिंग का क्षेत्र बहुत बड़ा और उम्मीद का क्षेत्र है।सीएम के अगुवाई में देश में बहुच से विकास कार्य हो रहे हैं। इस दौरान सीएम ने कहा कि गोरखपुर महोत्सव बहुत सफल रहा है।सीएम ने साथ ही प्रशिक्षुओं को बधाई दी, वहीं, दूसरी तरफ राज्यपाल रामनाईक ने कहा कि दो वर्ष पहले योगी सांसद थे तो नर्सिग कालेज के परमिशन के विषय को लेकर राजभवन में आते थे।मैं 29 विश्वविद्यालय का कुलाधिपति हूं।राज्यपाल ने कहा कि जिस देश की स्वास्थ और शिक्षा अच्छा होता है, उस देश की प्रगति होती है। सीएम योगी के कार्यकाल में विकास हो रहा है।राज्य़पाल ने कहा कि तीन साल पहले औऱ आज के यूपी में बहुत अंतर हो गया है। चिकित्सा क्षेत्र में नर्सिंग का बहुत महत्व है, नर्सिंग का कार्य किसी धर्म सेवा से कम नहीं है।इसके पहले राज्यपाल व सीएम दोनों लोगों ने मंदिर में पुजा अर्चना की।

Post A Comment: