जिला अस्पताल से सन्दिग्ध परिस्थितियों में ट्रांसपोर्ट वेंटिलेटर की तीन स्क्रीन चोरी
विनय कुमार मिश्र
गोरखपुर।यहाँ अब अस्पताल भी सुरक्षित नहीं रहे।ताज़ा जानकारी के अनुसार नेताजी सुभाष चंद बोस जिला अस्पताल के स्टोर रूम से ट्रांसपोर्ट वेंटिलेटर की तीन स्क्रीन चोरी हो गई हैं।कोतवाली पुलिस को दी गई तहरीर में एसआईसी डॉ0 राजकुमार गुप्ता ने अज्ञात लोगों पर आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज करने को कहा है। एसआईसी का कहना है कि वर्ष 2010 में निदेशालय से ट्रांसपोर्ट वेंटिलेटर प्राप्त हुए थे।
सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार चोरी हुए एक वेंटिलेटर स्क्रीन की कीमत लगभग सवा लाख रुपये है और उसका प्रयोग किसी अन्य वेंटिलेटर में आसानी से किया जा सकता है। जबकि एसआईसी का कहना है कि वह कबाड़ था।इस सम्बन्ध में नगर निगम चौकी प्रभारी राजेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि तहरीर मिली है और मौका मुआयना करने पर स्टोर रूम के पीछे की खिड़की लगभग 7 इंच काटी गई है लेकिन वहां से किसी व्यक्ति का अंदर जाना और फिर स्क्रीन उस रास्ते से बाहर निकालना सम्भव नहीं लगता जबकि स्टोर का एक ही दरवाज़ा है जो इंसेफैलाईटिंस वार्ड के गेट पर है जहाँ से किसी बाहरी व्यक्ति द्धारा उपकरण ले जाना सम्भव नहीं।उन्होंने कहा कि अस्पताल के जिम्मेदारों द्धारा लगातार अलग अलग बयान दिया जा रहा है इसलिये चोरी का यह मामला संदिग्ध नज़र आ रहा है।
वही दूसरी ओर स्टोर इंचार्ज अरविन्द सिंह ने बताया कि स्टोर की चाभी स्टोर में ही रखी जाती है और उनके अलावा वहां संविदा पर स्टोरकीपर जितेंद्र गुप्ता और प्रतिभा की तैनाती है।बहरहाल कुल मिलाकर यही कहा जा सकता है कि अब अस्पताल भी सुरक्षित नहीं रह गये है।

Post A Comment: