एसटीएफ ने इनामी गैंगस्टर आनंद यादव को किया गिरफ्तार
गोरखपुर।उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स ने गोरखपुर के कोतवाली थाना क्षेत्र से 10 हजार के इनामी गैंगस्टर आनंद यादव को गिरफ्तार किया है।एसटीएफ को सूचना मिली थी कि कुख्यात अपराधी प्रदीप सिंह की दुश्मनी 25 से 30 सालों से सुधीर सिंह से चल रही है। ये रंजिश पारिवारिक और व्यावसायिक दोनों है। इस रंजिश में अब तक दोनों तरफ से कई हत्याएं भी हो चुकी हैं। प्रदीप सिंह जमानत पर छूटने के बाद 13 अगस्त 2017 को मोहल्ला छोटे काजीपुर पहुंचा था।इस दौरान पुलिस ने रेड की तो प्रदीप फरार हो गया लेकिन आनंद यादव सहित अन्य सदस्य मौके पर गिरफ्तार हो गये थे।यहँ से यह पता चला कि प्रदीप के आय का मुख्य जरिया विवादित जमीनों पर कब्जा करना है।मामले की जांच में एसटीएफ को सूचना मिली कि 13 फरवरी को प्रदीप सिंह किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने के उद्देश्य से बैंक रोड पर आने वाला है।मौके पर पुलिस ने घेराबंदी की। इस दौरान एक शख्स आनंद यादव को मुखबिर ने पहचान लिया।इसके बाद एसटीएफ टीम ने उसे गिरफ्तार कर लिया। एसटीएफ के अनुसार आनंद यादव खजनी थानाक्षेत्र के छपिया गांव का रहने वाला है और वह प्रदीप सिंह गैंग का सक्रिय सदस्य है।वह गैंगस्टर के मुकदमे में फरार चल रहा था। 8 फरवरी को ही एसएसपी गोरखपुर में उसकी गिरफ्तारी पर 10 हजार रुपए का ईनाम घोषित किया था। जमीन पर कब्जे, प्रॉपर्टी डीलरों को धमकाने में प्रदीप सिंह का साथ आनंद यादव देता था।

Post A Comment: