सुलतानपुर
 जिलाधिकारी संगीता सिंह ने पुनरीक्षित राष्ट्रीय क्षयरोग नियन्त्रण
कार्यक्रम के अन्तर्गत आज जिला चिकित्सालय परिसर स्थित टी.बी. क्लीनिक
में क्षयरोगी रोगी खोज अभियान का फीताकाटकर शुभारम्भ किया तथा टीम को किट
का वितरण किया।

जिलाधिकारी ने कहा कि इस महा अभियान को सफल बनाने हेतु जो टीमें घर-घर जा
रही हैं वे अपना सक्रिय सहयोग दें, जिससे जिले को क्षयरोग से मुक्त किया
जा सके। उन्होंने बताया कि प्रथम चरण में सुलतानपुर नगर तथा कूरेभार
ब्लाक को इस अभियान में लिया गया है। इस हेतु  कुल 104 टीमें बनाई गयी
हैं, जो  घर -घर जाकर क्षयरोग से प्रभावित लोगों का चिन्हीकरण करेंगी।
उन्होंने टीम के सदस्यों से कहा कि वे सहज रूप से कार्यक्रम के बारे में
ग्रामीणों को बतायें तथा 06 प्रश्नों को उनसे पूछें।
इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ.सी.वी.एन.त्रिपाठी ने जिलाधिकारी का
स्वागत करते हुऐ कहा कि भारत सरकार का प्रयास है कि 2025 तक देश को
टी.बी. मुक्त बनाया जाय।
इस अवसर पर जिला क्षयरोग अधिकारी डाॅ. अमिताभ मिश्रा ने बताया कि जनपद की
कुल आबादी का 10 प्रतिशत में यह अभियान चलाया जा रहा है। जिसमें
सुलतानपुर नगर व सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र कूरेभार को लिया गया है।
उन्होंने बताया कि इस अभियान में 104 टीमें बनाई गयी हैं, जिसमें सदस्य
के रूप में आशा, आंगनवाड़ी व स्वैच्छिक कार्यकर्ता सम्मिलित हैं।
कार्यक्रम का संचालन सुरेश कुमार द्वारा किया गया। इस मौके पर डाॅ.
आदित्य दूबे, जिला सूचना अधिकारी आर.बी.सिंह, प्रताप सेवा समिति के विजय
बिद्रोही, मुनीर अहमद आदि उपस्थित थे। इस अवसर टीम के सदस्यों द्वारा
पूछे जाने वाले 06 प्रश्नों का जिलाधिकारी के समक्ष अभ्यास करके दिखाया।

Post A Comment: