कम पढ़े लिखे लोग भी आसानी से पढ़ सकेंगे गीता
         विनय कुमार मिश्र।
गोरखपुर।गीता प्रेस हमेशा ही अपने पाठकों का ध्यान रखती है तथा पाठकों तक कुछ नया पहुँचे इसी प्रयास में रहती है।इसी क्रम में गीता प्रेस ने नव वर्ष पर पाठकों को एक ऐसा तोहफा देने वाली है जिससे कम पढ़े लिखे लोग भी गीता आसानी से पढ़ सकेंगे।इसके लिए संस्थान कार्य करना शुरू कर दिया है।मालूम हो कि गीता का श्लोक संस्कृत में होने के साथ-साथ,लंबे बड़े होने के साथ इसका आसानी से कोई उच्चारण नहीं कर पाता है,पढ़ पाता है। जिसके लिए संस्थान ने एक तरकीब निकाली है। इन बड़े बड़े लंबे लंबे श्लोकों को छोटा कर प्रकाशन किया जाएगा। जिससे सभी को पढ़ने में आसानी होगी इसी के साथ अन्य भाषाओं में भी इस पुस्तक का प्रकाशन किया जाएगा।इस संबंध में गीता प्रेस के उत्पादन प्रबंधक लालमणि तिवारी का कहना है कि 2018 में हमारा एक ही लक्ष्य की गीता को सरल गीता बनाकर पाठकों तक पहुंचाया जाए ताकि सभी पाठक इसका अध्यन,पठन पाठन कर सकें।इस पुस्तक को 14 भाषाओं में प्रकाशन करने की हमारी योजना है।

Post A Comment: