ड्राइवर बन गया फार्मासिस्ट, लगा रहा मरीजों को इंजेक्शन
         विनय कुमार मिश्र
गोरखपुर। सीएम योगी के मुख्यमंत्री बनने के बाद से जहाँ शहर और जिले के साथ पूर्वांचल के लिए विकास की तमाम योजनाओं की घोषणा की झड़ी लग गई वही सीएम के शहर के जिला चिकित्सालय ने विकास की ऐसी रफ़्तार पकड़ी की यहाँ ड्राइवर फार्मासिस्ट बन गया।जी हां आपको ये बात सुन कर कुछ ताज्जुब ज़रूर हो रहा होगा लेकिन यह बिलकुल सच है और कई दिनों से मिल रही शिकायत के बाद इसको कैमरे में कैद किया जा चुका है।
गोरखपुर का नेताजी सुभाष चंद्र बोस जिला चिकित्सालय दिन प्रतिदिन नए कीर्तिमान स्थापित करता जा रहा है। कभी मरीजों को जमीन पर लिटा कर ड्रिप लगाने की तस्वीरें वायरल होती है तो कभी किसी को स्ट्रेचर नहीं मिलता। ताजा घटनाक्रम एआरबी वैक्सीनेशन कक्ष का है जहां चिकित्सालय में तैनात एक वरिष्ठ चिकित्सक का प्राइवेट ड्राइवर मरीजों को एआरवी वैक्सीन लगाते हुए देखा गया अब इसे इस जिला अस्पताल की तरक्की और विकास से जोड़कर देखा जाए या फिर अस्पताल में फैली दुर्व्यवस्था और अराजकता के रूप में।ड्राइवर द्धारा मरीजों को एआरबी इंजेक्शन लगाए जाने की बाबत जब जिला अस्पताल के एसआईसी डॉ0 राजकुमार गुप्ता से पूछा गया तो उन्होंने मामले को संज्ञान में लेते हुए देखने की बात कही।बताते चलें कि जिला अस्पताल में जगह जगह सीसी कैमरे लगे हुए हैं और एसआईसी चेंबर से एआरबी कक्ष की दूरी महज चंद कदमों की है और वहां की गतिविधियों की जानकारी उन्हें मीडिया के जरिये मालूम हो ये ताज्जुब की बात है।

Post A Comment: