होगा   त्रिकोनियेमुकाबला

विनय कुमार मिश्र

गोरखपुर।लोकसभा उपचुनाव जहाँ सात उम्मीदवारों का पर्चा खारिज हो गया वही मैदान में दस उम्मीदवार बच गये है।गोरखपुर लोकसभा उपचुनाव में बुधवार को नामांकन पत्रों की  स्क्रूटनी हुई जिसमें सात उम्मीदवारों का पर्चा खारिज कर दिया गया। कुल सत्रह उम्मीदवारों ने नामांकन दाखिल किया था। अब मैदान में केवल दस उम्मीदवार बचे है।
इनका पर्चा वैध पाया गया इंजीनियर प्रवीन कुमार निषाद उर्फ संतोष निषाद (सपा+निषाद पार्टी+पीस पार्टी गठबंधन),उपेंद्र शुक्ला (भाजपा), डा. सुरहिता करीम (कांग्रेस)
,गिरीश नारायण पांडेय (सर्वोदय भारत पार्टी)
,मालती देवी (निर्दल),इं. श्रवण कुमार निषाद(निर्दल),राधेश्याम सेहरा(निर्दल),नरेंद्र कुमार महंत(निर्दल),विजय कुमार राय (निर्दल),अवधेश निषाद(बहुजन मुक्ति पार्टी)
पर्चा खारिज होने वालों में सपा के नगीना प्रसाद साहनी, राष्ट्रवादी जनशक्ति पार्टी की पूनम विश्वकर्मा शामिल है। पांच निर्दलीयों का भी पर्चा खारिज हुआ है जिनमें अरुण कुमार, अशोक कुमार, शैलेष कुमार, जय प्रकाश गुप्ता, अच्छे लाल गुप्ता शामिल है। 23 फरवरी को करीब तीन बजे तक नाम वापसी होगी। 23 फरवरी को ही तीन बजे के बाद सिम्बल आवंटित होगा। 11 मार्च को मतदान और 14 मार्च को  मतगणना होगी । कुल मतदाता 1949144 है। मतदान 2141 बूथों पर होगा।
एक ही ईवीएम पर आ जायेगा सारे उम्मीदवारों के नाम!
गोरखपुर लोकसभा उपचुनाव में एक ही ईवीएम से ही काम चल जायेगा। एक ही ईवीएम पर आ जायेगा सारे उम्मीदवार का नाम। एक ईवीएम में 15 उम्मीदवार और नोटा का बटन होता है। सपा प्रत्याशी प्रवीन कुमार निषाद की मां श्रीमती मालती निषाद व भाई इं. श्रवण कुमार निषाद के नाम वापस लेने की पूरी संभावना है। ऐसे में उम्मीदवारों की संख्या और घट जायेगी एेसा अगर होता है तो एक ही एवीएम मशीन से वोट पड़ जायेगे।ऐसे में एक पोंलिंग बुथ पर एक एवीएम से वोट पड़ जायेगे।

Post A Comment: