फर्जी तरीके से सरकारी कार्य हेतु स्टीकर लगा कर ले जाते थे मिट्टी।
गुलहरिया पुलिस गाड़ी को पकड़ कर कर रही है कार्यवाही।
गोरखपुर।गुलरिया थाना के सरहरी चौकी अन्तर्गत मंगलपुर टोला के जगदीशपुर  गाव के समीप  डम्फर से  सुबह  में  मिट्टी  अबैध रूप के जाते समय सरहरी पुलिस पकड़ लिया  डम्फर को थाने ले जाया गया।प्राप्त विवरण के अनुसार  ठेकदार  ने अवैध मिट्टी की खुदाई कर कर  मिट्टी को ले जा रहे थे पुलिस को शिकायत मिली कि  गाड़ी पर बकायदे शीशा पर  सरकारी हेतु   स्टीकर चिपकाया गया था  इसके आड़ में जम कर मिट्टी ले जा कर जगह जगह गिरा रहे थे पूछे जाने पर गाड़ी वाले बताते थे कि यह महेसरा पुल पर जा रहा है  गुलहरिया पुलिस गाड़ी को पकड़ कर कारवाही कर रही है
पुलिस ने गिरफ्तार किये अपराधी।
गोरखपुर।एसएसपी द्वारा अपराधियो के खिलाफ चलाये जा रहे अभियान के पुलिस अधीक्षक ग्रामीण ज्ञान प्रकाश चतुर्वेदी  के नेतृत्व में थाना अध्यक्ष खजनी आशितोष सिंह ने 21 तारीख को लूट करने वाले दो अभियुक्तों को पकड़ उनके पास से तमंचा और लूटी हुई नगद बरामद किया क्षेत्रा अधिकारी ASP चारू निगम खजनी ने थाने पर किया खुलासा।
पकडने वाली टीम लेने  SI अमित सिंह आशिष सिह.व कांस्टेबल धर्मेंद्र त्रिपाठी कुतुबुद्दीन अन्य  मौजूद रहे
ज्वेलरी की दुकान से लाखों की चोरी।
      विनय कुमार मिश्र
गोरखपुर। चिलुआताल थाना क्षेत्र के सिक्टौर बाजार स्थित ज्वेलरी की फर्म फुन्नीलाल कृष्णबिहारी ज्वेलर शॉप में चोरी का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि बीती रात चोरों ने छ्त के रास्ते दुकान में घुस कर लाखों के सामानो पर हाथ साफ कर दिया। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस जांच पड़ताल में जुट गई है।जानकारी के मुताबिक, ज्वेलर शॉप के मालिक कृष्णबिहारी वर्मा पुत्र स्व० फुन्नीलाल दुकान बंद करके अपने घऱ आये। गुरुवार को सुबह फर्म का कर्मचारी रामा जब दुकान खोलने पहुंचा तो हर की तरह कमरे से चाभी लेकर बाहर का शटर खोला तो अन्दर का नजारा देख हैरान रह गया। उसने तुरन्त इसकी सूचना कृष्णबिहारी को दी। जिसके बाद चिलुआताल पुलिस को चोरी की जानकारी दी। दुकान पर कृष्ण बिहारी के अलावा चार लोग रामा, अशोक ,राजेश व सुरेश भी रहते हैं।चोरी की सूचना पर चिलुआताल पुलिस पहुंच कर जांच पड़ताल कर रही है। फोरेन्सिक जांच टीम भी मौके पर पहुंच गई है। गैस कटर से तीन दरवाजे को काट कर नीचे दुकान में पहुंचे। चोर लोहे की अलमारी के फाटक को भी गैस कटर से काट कर उसमें रखा सामान भी उठा ले गये। दूकान मालिक कृष्ण बिहारी के अनुसार 6 हजार नगद सहित लगभग तीन लाख का सामान चोर उठा ले गये हैं। 
पुलिस ने एटीएम ठगों के गैंग का किया खुलासा, 3 गिरफ्तार।
    विनय कुमार मिश्र
गोरखपुर। पुलिस ने शातिर एटीएम ठगों के गैंग का खुलासा किया है. इस गैंग के सरगना मनोज कन्नौजिया समेत तीन बदमाशों को गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने गिरफ्त में आए बदमाशों के पास से नगदी, तीन एटीएम और दो बाइक बरामद किया है।खोराबार थानांतर्गत रामनगर कड़जहां क्षेत्र से इन शातिर बदमाशों को गिरफ्तार किया है।सीओ कैंट अभिषेक सिंह ने बताया कि काफी दिनों से एटीएम कार्ड की हेराफेरी कर ठगी करने वाले गैंग की शिकायत मिल रही थी।ऐसे में पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर तीन शातिर एटीएम ठगों को गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गये ठग
एटीएम कार्ड का इस्तेमाल करने में नौसिखिया लोगों को अपना शिकार बनाते थे।खासकर मदद का झांसा देकर शातिर बदमाश एटीएम का पासवर्ड जान लेते थे. मौका मिलते ही एटीएम से पैसा निकाल कर रफूचक्कर हो जाते थे।

आशीर्वाद हॉस्पिटल की जाँच करने कौड़ीराम पहुंचे स्वास्थ विभाग के अधिकारी।
ऑपरेशन के बाद प्रसूता की मौत का मामला, डीएम ने दिया था जाँच का आदेश
         विनय कुमार मिश्र
गोरखपुर। डीएम के निर्देश पर गुरुवार की दोपहर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी प्रसूता की मौत की जाँच करने कौड़ीराम के आशीर्वाद हॉस्पिटल पहुचे। उन्होंने अस्पताल का मुआयना किया और जाँच पूरी होने तक अस्पताल बंद रखने का निर्देश दिया।
गुरुवार की दोपहर करीब 12 बजे अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 एस0के0 पाण्डेय, डॉ0 एन0 के0 पाण्डेय और शोध अधिकारी सुधांशु श्रीवास्तव कौड़ीराम कस्बे के आशीर्वाद हॉस्पिटल पहुचे। अधिकारियों ने गगहा क्षेत्र के मठिया निवासी गूंजा देवी की मौत के बारे में जानकारी ली। अस्पताल प्रबंधक राधेश्याम वर्मा ने मृतका के अस्पताल में भर्ती होने और सिजेरियन के द्वारा बच्चा पैदा होने की बात स्वीकार की। अस्पताल प्रबंधन ने अधिकारियों को बताया कि डॉ0 मधु पाल ने प्रसूता का ऑपरेशन किया था।  हालत नाजुक होने पर उसे रेफर कर दिया गया। अधिकारियो ने अस्पताल की विभिन्न गतिविधियों की जांच की। संतुष्ट न होने पर जांच पूरी होने तक अस्पताल को बंद रखने का निर्देश भी दिया। अधिकारियो ने इस बावत एक लिखित नोटिस भी अस्पताल प्रबंधन को प्राप्त कराई। अस्पताल की जांच करने गए अधिकारी करीब एक घंटे तक अस्पताल में रुके रहे। अधिकारियों के अनुसार उन्हें अस्पताल में अल्ट्रासाउंड मशीन नही मिली। आशीर्वाद हॉस्पिटल की जाँच के बाद अधिकारी सीधे कौड़ीराम के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर पहुचे। उन्होंने अस्पताल के वैक्सीन रूम प्रसूति केंद्र और जनरल वार्ड आदि का निरीक्षण किया। इसके बाद प्रभारी चिकित्साधिकारी से घटना के बावत जानकारी ली।

Post A Comment: