फिज़िक्स का प्रश्नपत्र वायरल, मोतिहारी से छह धराए/प्रशासनिक टीम फैली शहर में, चल रही छापेमारी
कुमार गौरव की रिपोर्ट :

 जिलाधिकारी ने बनाई तीन सदस्यीय टीम, चल रही जांच कहां से लीक हुआ प्रश्न-पत्र

मोतिहारी, ताज़ा हाल।* जिले में गुरुवार की सुबह इंटरमीडिएट परीक्षा की प्रथम पाली में भौतिकी का प्रश्न-पत्र लीक कर गया। छात्रों के सेंटर पहुंचने से थोड़ी देर पहले ही प्रश्न-पत्र बाजार में व्हाट्सऐप के जरिए पहुंच गया और उसके उत्तर भी वायरल होने लगे।

इस बीच इस आशय की जानकारी मिलने के साथ कदाचार मुक्त परीक्षा संचालक के जिम्मेदारी लेनेवाले अधिकारियों की टीम हरकत में आई और शहर के विभिन्न इलाकों में छापेमारी शुरू की गई। इस दौरान करीब आधा दर्जन लोग हिरासत में लिए गए हैं। हिरासत में लिए गए लोगों से नगर थाने में पूछताछ चल रही है।

जिलाधिकारी रमण कुमार ने मामले की जांच के लिए सदर अनुमंडल पदाधिकारी रजनीश लाल, पुलिस उपाधीक्षक पंकज रावत और जिला शिक्षा पदाधिकारी इफ्तेखार अहमद के नेतृत्व में एक टीम बनाई है। टीम पूरे मामले की जांच कर रही है। पता लगाया जा रहा है कि प्रश्न-पत्र कहां से लीक हुआ है।

पकड़े गए लोगों से मिली जानकारी के आधार पर छापेमारी टीम शहर के विभिन्न इलाकों में स्थित फोटो-स्टेट व कोचिंग संस्थानों की तालाशी ले रही है। शहर में सक्रिय शिक्षा माफियाओं में हड़कंप मचा है। 

प्रश्न-पत्र लीक होने के साथ तैयार हो गए उत्तर 

प्रश्न-पत्र लीक होने के साथ ही शहर के विभिन्न इलाकों में स्थित कतिपय कोचिंग संस्थानों के शिक्षक सक्रिय हुए और प्रश्न-पत्र का उत्तर तैयार करने लगे। सूत्र बताते हैं कि कई छात्रों को परीक्षा में प्रवेश करने से पहले ही उत्तर दे दिए गए थे। बहरहाल इस तथ्य की पड़ताल की जा रही है कि प्रश्न-पत्र मोतिहारी से लीक हुए हैं या कहीं और से। प्रशासनिक टीम फिलहाल छापेमारी से जुड़ी बातों को सार्वजनिक नहीं कर पा रही है। 

क्या कहा जिलाधिकारी ने 
प्रश्न-पत्र लीक हुआ है। मामला गंभीर है। सदर एसडीएम के नेतृत्व में तीन सदस्यीय टीम बनाई गई है। करीब आधा दर्जन लोग हिरासत में लिए गए हैं। सभी से पूछताछ की जा रही है। प्रश्न-पत्र लीक होने के वास्तविक स्थान की जानकारी मिलने के बाद बोर्ड को विस्तृत रिपोर्ट भेजी जाएगी।

Post A Comment: