बिहार के बहुचर्चित इंजीनियर डबल मर्डर केस में कोर्ट ने10 दोषियों के खिलाफ उम्रकैद की सजा सुनाये
चीफ एडिटर कृष्ण कुमार संजय की रिपोर्ट :
बिहार के बहुचर्चित इंजीनियर डबल मर्डर केस में कोर्ट ने10 दोषियों के खिलाफ उम्रकैद की सजा सुनाये  | दरभंगा में एडीजे 5 रूपेश देव ने इस दोहरे हत्याकांड में उम्रकैद की सजा सुनाए हैं |

गैंगस्टर संतोष झा,मुकेश पाठक, विकास झा उर्फ कालिया, अभिषेक झा, निकेश दुबे, पिंटू झा उर्फ बाबा, पिंटू तिवारी, अजय कुमार उर्फ पिंटू लाल देव, संजय लाल देव व बहेड़ी प्रखंड की पूर्व प्रमुख मुन्नी देवी सहित दस आरोपियों को कोर्ट ने 26 फरवरी को दोषी करार दिया था जिन्हें आज सजा सुनाई गई. इस फैसले के बाद आरोपियों के परिजनों में मायूसी छा गई
इसी मामले में अदालत ने 4 आरोपित ऋषि झा, सुबोध दूबे, टुन्ना झा व अंचल झा को निर्दोष पाते हुए रिहा करने का आदेश दिया था। जबकि इस मामले के एक आरोपित चुन्नू मिश्र उर्फ सुमित मिश्र की मृत्यु हो चुकी है. 26 फरवरी 2018 को कोर्ट ने 14 आरोपियो में से 10 को इस हत्याकांड में दोषी करार दिया था.

26 दिसंबर 2015 को दरभंगा जिले के बहेड़ी थाना क्षेत्र के शिवराम चौक पर एसएच 88 का निर्माण कार्य करा रहे बीएससी और सी&सी के अभियंता मुकेश कुमार और ब्रजेश कुमार को दिनदहाड़े अत्याधुनिक हथियार AK-56 से अंधाधुंध फायरिंग कर गोलियों से भून डाला गया था|

Post A Comment: