स्मृति कुमारी नामक पार्ट 2 कि छात्रा ने उपस्थिति के बाजूद भी अपसेन्ट कर फेल करने का लगया आरोप

हरीश कुमार

आरा भोजपुर।यू तो विरकुंवर सिंह विश्वविद्यालय का विवादों से चोली दामन का नाता रहा है,छात्र छात्राओं द्वारा विश्वविद्यालय प्रशासन पर हमेशा से ही अनियमितता एवं लापरवाही का आरोप लगाया जाता रहा है।लेकिन पदाधिकारी सिरे से अपना पल्ला झाड़ अपने कर्तव्यों का इतिश्री कर लेते है,जिससे छात्र छात्राओं का भविष्य अक्सर अधर में लटक जाता है।इसी का एक ज्वलंत उदाहरण तब देखने को मिला जब वीर कुंवर सिंह विश्वविद्यालय की एक अंगीभूत महाविधालय जैन कॉलेज की छात्रा परीक्षा नियंत्रक के पास गुहार लगाने पहुचीं।बकौल छात्रा स्मृति कुमारी,पिता-अरविंद कुमार सिंह ने स्नातक पार्ट 2 का परीक्षा एस बी कॉलेज में दिया,पूरे परीक्षा में उपस्थित रही लेकिन विश्वविद्यालय ने छात्रा को अनुपस्थित करार देते हुए रिजल्ट रोक दिया ।इस बाबत पीड़ित छात्रा के पिता एवं मसाढ़ पैक्स अध्यक्ष अरविंद कुमार ने बताया कि स्नातक पार्ट 2 केमिस्ट्री ओनर्स की परीक्षा में दो छात्राओं को एक ही क्रमांक जारी कर दिया गया है,जिससे ये समस्या उत्पन्न हो गया है।कुलपति तथा परीक्षा नियंत्रक के बैठक में होने की बात कह विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा टाल मटोल कर परेशान किया जा रहा है।फिलवक्त पीड़ित छात्रा द्वारा मामले की जांच के साथ आवेदन देकर पुनःउत्तरपुस्तिकाओं की जांच कराने की मांग की है।बहरहाल मामला चाहे अनुपस्थिति का हो या दो छात्राओं को एक ही क्रमांक   जारी करने का, लेकिन कही से भी किसी को भी छात्र छात्राओं के भविष्य से खिलवाड़ करने का अधिकार नही है।अब देखने वाली बात यह होगी कि आखिर अधर में फसी इन छात्राओं की भविष्य की निगरानी कुलपति,परीक्षा नियंत्रक एवं विश्वविद्यालय प्रशासन कब और कैसे कर पाता है ? ।

Post A Comment: