ये है शहीदों की नगरी का रेलवे स्टेशन,जहाँ चारों तरफ गंदगी,शौच
      विनय कुमार मिश्र
गोरखपुर।ऐतिहासिक नगर चौरी चौरा का रेलवे स्टेशन देखते ही बनता है।इतिहास में नाम रोशन करने वाला यह नगर एक अच्छे रेलवे स्टेशन के लिए भी तरस रहा है।रेलवे स्टेशन के चारों तरफ गड्ढे और गंदगी अपने हालात बयां करने के लिए काफी है। स्टेशन पर यात्रियों के बैठने के लिए बनाया गया प्रतीक्षालय हमेशा बंद पड़ा रहता है और अगर भगवान भरोसे खुल भी गया तो इसमें अराजक तत्व आ बैठते हैं।प्लेटफार्म पर लगे टीन शेड तो उड़े उड़े नजर आते हैं।सोचा जा सकता है कि यात्री कैसे धूप गर्मी बरसात ट्रेनों का इंतजार करते हैं।यहां पर पानी के पीने के लिए लगाए गए इंडिया मार्का हैंडपंप बेकार और सूखे पड़े हैं। यात्रियों की प्यास कैसे बुझती है रामजाने। यही नहीं यहां पर ठंडे पानी के लिए लगाया गया फ्रीजर हमेशा बंद रहता है जबकि गर्मी नजदीक आ गई है। कर्मचारियों के लिए बनाए गए आवास की दयनीय दशा के विषय में कर्मचारी बोलने से कतराते हैं क्योंकि उनको डर है कि कोई कार्यवाही उन्हीं पर न हो जाए।यहां बनाए गए कई आवास अराजक तत्वों के हवाले शाम ढलते ही हो जाते हैं।कुछ आवासों में कर्मचारी निवास करते हैं जिनकी स्थिति दयनीय है।ऊपर से  बंदरों का आतंक अलग से है।इस संबंध में स्टेशन मास्टर का कहना है कि बंद पड़े फ्रीजर को जल्द ही लाइन से जोड़ दिया जाएगा ताकि यात्रियों को ठंडे पानी मिल सके।इंडिया हैंडमार्का पंप बंद पड़े होने के विषय में और आवासों,स्टेशन के चारों तरफ गड्ढे और फैली गंदगी के विषय में कोई उचित जवाब नहीं दे पाते।समझा जा सकता है कि कही न कही मामला सबके जानकारी में होने के बावजूद घोर लापरवाही की जा रही है।स्टेशन के सभी जरूरी सामानों को बंदर तितर बितर कर देते है।

Post A Comment: