पी एम जी एस वाई मे हो रही घटिया सामग्री का प्रयोग - सुरेन्द्र अग्रहरि
ब्यूरो सुभाष पाण्डेय
सवाददाता सुबलाल भारती
(महुली)सोनभद्र- प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अन्तर्गत महुली से करहिया वाया डुमरा संपर्क मार्ग का निर्माण मेसर्स आर पी एस कंस्ट्रुक्शन्स द्वारा कराया जा रहा है जो ग्रामीण विकास मंत्रालय भारत सरकार द्वारा वित्त पोषित परियोजना के अन्तर्गत बन रहा है।प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत इस सड़क की लम्बाई 8 किलोमीटर है जिसे 14 जुलाई 2015 को शुरू करके 13 जुलाई 2016 तक पूर्ण कर लेना था लेकिन विभाग और ठेकेदार की मनमानी से या यूं कहा जाए कि निष्क्रियता से अभी तक पूर्ण नही हो पाया है। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना को बनाने में एक किलोमीटर का लागत 50 लाख से ऊपर दिया जाता है फिर भी ठेकेदार और विभाग ऐसे संवेदनशील समस्याओ को शीघ्र पूरा करने के बजाय लेटलतीफी करवाते है जबकि इसका समय अब अनुरक्षण का हो गया है।अभी तक यह सड़क आधा भी नही बन पाया है ।पिछली सरकार में अधिकारी और ठेकेदार समझते थे कि जल्दी जल्दी काम करके निबटा देंगे लेकिन भाजपा सरकार आने के बाद कमाई उतना नही हो पाता ,इसलिए अब दूसरा उपाय लगाया जा रहा है वह है घटिया सीमेंट का जो कि पुलिया के निर्माण में कत्तई नही लगना चाहिए लेकिन ठेकेदार द्वारा मनमाने तरीके से लोकल सीमेंट का प्रयोग बांगुर का प्रयोग किया जा रहा है जो बाजार में सबसे सस्ता है।भारतीय जनता पार्टी के पूर्व जिला महामंत्री सुरेन्द्र अग्रहरि  प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत  जोरकहु में बन रहे पुलिया निर्माण देखने गए तो साफ दिखाई दिया कि इस पुलिया निर्माण में लोकल सीमेंट बांगुर का प्रयोग किया जा रहा है और मसाले का प्रयोग आवश्यकता के अनुरूप नही हो रहा है ।ज्ञातव्य हो कि जिस स्थान पर पुलिया का निर्माण हो रहा है वहाँ पर पहले से पुलिया बनी हुई थी लेकिन ठेकेदार द्वारा घटिया सामग्री का प्रयोग किये जाने के कारण ही वह पुलिया धस गयी थी।ठेकेदार द्वारा मनमानी करने का एक और कारण यह है कि यह पुलिया जंगल मे है और ज्यादा लोगो का आवागमन नही होता है जिसका फायदा ठेकेदार और विभाग मिलकर उठा रहे है ।भारतीय जनता पार्टी के पूर्व जिला महामंत्री सुरेन्द्र अग्रहरि, जिला सतर्कता एवं निगरानी समिति की सदस्या रुद्राणी देवी,अनुसूचित मोर्चा के जिला महामंत्री धनञ्जय रावत,पंकज गोस्वामी ने जिलाधिकारी महोदय से माँग किया है दुरूह क्षेत्रो में बन रहे पुलिया निर्माण में घटिया सामग्री का प्रयोग बन्द हो और फिर से उस पुलिया का निर्माण शुरू किया जाए क्योंकि घटिया सामग्री के हुए प्रयोग से यह पुलिया कभी भी धस सकती है जिससे जानमाल का खतरा भी हो सकता है ।

Post A Comment: