बिहार के नए डीजीपी के एस द्विवेदी को भागलपुर कांड में क्लीन चीट मिल गया 

चीफ एडिटर ,कृष्ण कुमार संजय :


बिहार :के एस द्विवेदी को बिहार के  डीजीपी बनाये जाने पर उठ रहे सवालों के बीच बिहार सरकार के  गृह विभाग के प्रधान सचिव आमिर सुबहानी ने मामले में सफाई दी और कहा कि भागलपुर दंगे के बाद गठित जांच कमिटी के दो सदस्यों द्वारा के एस द्विवेदी समेत कुछ अन्य अफसरों की की कार्यशैली पर सवाल उठाये गये थे और प्रतिकूल टिप्पणी की गई थी|

इस टिप्पणी को हाईकोर्ट में चुनौती दी गई थी जिस पर कोर्ट ने द्विवेदी पर लगे आरोपों को खारिज कर दिया था.  गृह विभाग के प्रधान सचिव आमिर सुबहानी ने पटना में आयोजित संवाददाता सम्मलेन में कहा कि हाईकोर्ट से भागलपुर दंगे को लेकर डीजीपी के एस द्विवेदी पर उठाये गये सवालों को पटना हाईकोर्ट ने पहले ही खारिज कर चुका है औऱ सुप्रीमकोर्ट भी इस पर मुहर लगा चुका है.मालूम हो कि 1984 बैच के आईपीएस अधिकारी केएस द्विवेदी को बिहार का डीजीपी नियुक्त किया गया है. के एस द्विवेदी 1989 में एसपी भागलपुर थे जब वहां दंगे हुए थे. डीजीपी बनाये जाने पर भागलपुर दंगे के मामले को लेकर राजनीती तेज हो गयी थी |


Post A Comment: